चौड़े किए सर्कुलर रोड पर अवैध पार्किंग स्थल

शिमला—राजधानी शिमला में एक बार फिर हम नहीं सुधरेंगे की स्थिति सामने आ रही है। एक तरफ जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू करने के लिए कई प्रयास कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर लोग अवैध रूप से हर कहीं सर्कुलर रोड पर गाडि़यां पार्क कर रहे हैं। हैरानी तो इस बात की है कि शिमला के 40 सर्कुलर रोड को जो खुला करने का काम शुरू हुृआ है, वहां पर भी सैकड़ों की तादाद में गाडि़यां रोजाना पार्क की जा रही हैं। शिमला के लोगों द्वारा पार्क की जा रही इन गाडि़यों को पार्क करने से जिला प्रशासन भी लोगों को नहीं रोक पा रहा है। हालांकि कुछ दिन तो प्रशासन ने जगह-जगह पर पुलिस कर्मी तैनात किए, लेकिन अब कई जगहों से इन्हें भी हटा दिया है। बता दें कि हाई कोर्ट के आदेशों के बाद जिला प्रशासन ने लोक निर्माण विभाग को शिमला शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में 40 प्वाइंट सिलेक्ट कर ये निर्देश दिए थे कि यहां की सड़कों को चौड़ा किया जाए, ताकि जाम की समस्या जो पैदा हो रही है, उससे छुटकारा मिल सके। इसके लिए लोक निर्माण विभाग ने शिमला सिटी के ज्यादातर बाईपास की जगह पर रोड को चौड़ा भी कर दिया है, लेकिन आम लोगों के लिए यह केवल अब नए पार्किंग स्थल की तरह हो गए हैं। बता दें कि हाईकोर्ट ने जिला प्रशासन को शिमला में लग रहे जाम की समस्या से छुटकारा दिलवाने के लिए ही सर्कुलर रोड को चौड़ा करने के निर्देश दिए थे। जिला प्रशासन को यह कार्य जल्द पूरा करना था, लेकिन अभी तक लोक निर्माण विभाग की देरी की वजह से सर्कुलर रोड को पूरा करने का भी कार्य पूरा नहीं हो रहा है। गौर हो कि राजधानी शिमला में इन दिनों रोजाना नौ से आठ हजार एक्स्ट्रा गाडि़यां शहर में आ रही हैं। वहीं प्रशासन की मानें तो छह हजार गाडि़यां वापस भी जाती हैं। ऐसे में शिमला शहर में पहले से पार्किंग की समस्या से जूझ रहे प्रशासन को और भी दिक्कतें सामने आ रही हैं। जिला प्रशासन रोजाना ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारने के लिए पुलिस प्रशासन के साथ भी बैठकें आयोजित कर रहे हैं। बावजूद इसके कोई भी समाधान नहीं हो पा रहा है। जिला प्रशासन ने एक बार फिर से सर्कुलर रोड को चौड़ा करने को लेकर लोक निर्माण विभाग को सख्त आदेश जारी होने की योजना बनाई जा रही है। जिला उपायुक्त ने पुलिस प्रशासन को इस बारे में सख्त आदेश जारी कर यह कहा है कि सर्कुलर रोड पर गाडि़यां पार्क न करवाने दी जाएं।

छोटी सड़कें जाम का सबसे बड़ा कारण

बता दें कि शिमला की छोटी सड़कें जाम लगने का सबसे बड़ा कारण हैं। यही वजह है कि जिला प्रशासन हाई कोर्ट के निर्देशों के बाद शहर के चयनित सर्कुलर रोड को चौड़ा करवा रहे हैं। शिमला शहर की छोटी सड़कांे की वजह से दुर्घटना के मामले भी शहर में ज्यादा बढ़ रहे हैं। यही वजह है कि अब जिला प्रशासन सर्कुलर रोड के कार्यों को जल्द पूरा करने को लेकर कार्यों में तेजी ला रहे हैं।

पीडब्ल्यूडी के कार्यों पर भी उठ रहे सवाल

जिला प्रशासन ने लोक निर्माण विभाग के कार्यों पर भी सवाल उठाए हैं। जिला प्रशासन का कहना है कि  लोक निर्माण विभाग सड़कों को चौड़ा करने का कार्य कछुए की चाल से कर रहा है। प्रशासन ने इस मामले पर लोक निर्माण विभाग से जल्द रिपोर्ट तलब करने को भी कहा है।

You might also like