छह महीने में लागू करें सभी योजनाएं

कैप्टन अमरेंदर सिंह ने मंत्रिमंडल की बैठक में दिए निर्देश

चंडीगढ़ – पंजाब में हाल के लोकसभा चुनावों में 13 में से आठ सीटों पर शानदार जीत करने वाली राज्य की कांग्रेस सरकार ने अपनी सभी योजनाओं एवं कार्यक्रमों को लागू करने के लिए छह महीने का समय निर्धारित करते हुए अपने सभी कैबिनेट सहयोगियों को इनके क्रियान्वयन में तेजी लाने और इनकी प्रगति की नियमित रूप से समीक्षा करने तथा इनमें आवश्यकतानुसार बदलाव करने के लिए एक सलाहकार समूह गठित करने के निर्देश दिए हैं। राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह ने यहां मंत्रिमंडल की बैठक शुरू होने से पूर्व उनके कैबिनेट सहयोगियों द्वारा उन्हें लोकसभा चुनावों में पार्टी की शानदार जीत के लिए बधाई दिए जाने के मौके पर ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि देश में नरेंद्र मोदी की लहर के बावजूद राज्य में संसदीय चुनावों में कांग्रेस के प्रदर्शन पर संतोष प्रकट करते हुए कहा कि पंजाब एक मात्र राज्य है, जहां कांग्रेस की भारतीय जनता पार्टी और उसके सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल  के साथ सीधी टक्कर थी। उन्होंने अपने साथियों को सावधान करते हुए कहा कि यह हाथ पर हाथ रखकर बैठे रहने का समय नहीं है और राज्य में 2022 के विधान सभा चुनाव की तैयारी और लोगों की इच्छाओं को पूरा करने के लिए अभी से कड़ी मेहनत करने की ज़रूरत है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि ऋण राहत, घर-घर रोज़गार, स्वास्थ्य बीमा आदि महत्वपूर्ण योजनाएं अविलंब लागू की जाएं तथा इनमें किसी भी प्रकार की देरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने इन योजनाओं की प्रगति की समीक्षा एवं सलाह देने के लिए दो-तीन मंत्रियों और पांच-छह विधायकों के एक सलाहकार समूह का तुरंत गठन करने के निर्देश दिये। इस समूह में संबंधित विभागों के सचिव भी शामिल किए जाएंगे। कैप्टन सिंह ने सरकारी कर्मचारियों के साथ प्राथमिकता के आधार पर बातचीत शुरू करने तथा इनकी लंबित मांगों एवं समस्याओं के समाधान भी सुनिश्चत करने के निर्देश दिए।

You might also like