जमीनी विवाद से जुड़ने लगे हत्या के तार!

गगरेट—तो क्या विकास खंड गगरेट की ग्राम पंचायत लोहारली के उपप्रधान प्रदीप कुमार दीपू की हत्या का मुख्य कारण जमीनी विवाद है? आखिर ऐसी क्या वजह रही कि उसके सौतेले भाइयों को उसे रास्ते से हटाना ही ठीक लगा। या फिर इस हत्या के पीछे कोई और कारण है। इतिहास पर नजर दौड़ाएं तो ऐसे जघन्य अपराध के पीछे मुख्य कारण जर, जोरू और जमीन ही रहा है लेकिन क्या इस जघन्य अपराध का प्लाट भी इन्हीं कारणों में से किसी एक के चलते तैयार हुआ? ये ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब ढूंढने का प्रयास पुलिस भी कर रही है, लेकिन पुलिस भी अभी इस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है कि आखिर प्रदीप कुमार दीपू की हत्या के पीछे क्या कारण रहा। हालांकि अभी तक इस मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल नहीं किया है। ऐसे में यक्ष सवाल यही है कि अगर आरोपी सच बोल रहे हैं तो प्रदीप कुमार दीपू की मौत का क्या कारण रहा। दरअसल प्रदीप कुमार दीपू के पिता रछपाल सिंह की पहली शादी से उसके बेटे राजेश कुमार व सुरेश कुमार हैं और प्रदीप कुमार दीपू रछपाल सिंह की दूसरी शादी से पैदा हुआ बेटा था। गांव वालों की मानें तो राजेश कुमार व सुरेश कुमार कभी भी दिल से प्रदीप कुमार दीपू को अपना भाई मान ही नहीं पाए। इससे पहले भी उनके कई झगड़े होते रहे। यही वजह है कि अब जब प्रदीप कुमार दीपू  की मौत हुई तो हर कोई इन दोनों भाइयों को ही शक की नजर से देख रहा है। हालांकि प्रदीप कुमार दीपू की मां ने जमीन पर दावा करते हुए न्यायालय में एक केस भी किया था और इसी केस के चलते इनमें कड़वाहट भी पैदा हुई थी। पुलिस ने इन मामले के आरोपियों को पुलिस रिमांड पर लिया है ताकि उनसे सच उगलवाया जा सके। वहीं आम जनता भी अब यह जानना चाह रही है कि आखिर प्रदीप कुमार की हत्या के पीछे मुख्य कारण क्या रहा। अगर वास्तव में उसे जहर दिया गया तो वह कौन सा जहर था। पुलिस अब शिद्दत से इन सवालों के जवाब ढूंढने में जुट गई है।

You might also like