जम्मू-कश्मीर में तीन मुठभेड़, आठ आतंकी ढेर

 श्रीनगर -शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब दिल्ली में अपने मंत्रियों को विभाग बांट रहे थे, तभी आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में एक के बाद एक घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। हर एक वोट, आतंकवाद पर चोट के नारे के साथ दोबारा सत्ता तक पहुंचे पीएम मोदी की सरकार के पहले ही दिन शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर में तीन आतंकी घटनाएं हुईं और भारतीय जवानों ने आठ आतंकियों को मार गिराया। पहली मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिला में शुक्रवार सुबह हुई, जहां सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकवादी मारे गए। इस दौरान एक जवान भी घायल हुआ है। तीनों आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं। एक आतंकवादी की पहचान साजू मागरे के तौर पर हुई है, जबकि शेष दो की पहचान फिलहाल नहीं हो पाई है। सुरक्षा बलों ने मौके से भारी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद किया है। शुक्रवार दोपहर आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के त्राल में सीआरपीएफ कैंप पर हमला कर दिया। सीआरपीएफ की 180 बटालियन के कैंप पर आतंकियों ने गोलियां बरसाईं। हालांकि इस घटना में सीआरपीएफ को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। सीआरपीएफ जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की। मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए और खबर लिखे जाने तक दोनों तरफ से फायरिंग जारी थी। शुक्रवार को ही जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में भी आतंकवादियों से सुरक्षाबलों की मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया, जबकि दो पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। मुठभेड़ तब हुई, जब किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में फैजी पुल के पास आतंकवादियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी।

 

 

You might also like