जरयाल को कौन कर रहा बदनाम

चुवाड़ी—चंबा जिला के भटियात से विधायक विक्रम जरयाल द्वारा मंत्री न बनने पर विधायक पद से इस्तीफा देने का सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज चर्चा की विषय बन गया है। फिलहाल विधायक ने  ऐसी बातों को अफवाह करार दिया है। उन्होंने बाकायदा पुलिस थाना चुवाड़ी में शिकायत भी दर्ज करवाई है।  उधर, पुलिस का कहना है कि इस मामले के हर पहलू को खंगाला जा रहा है। मामले में जो भी गलत पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जांच में  भले ही कुछ भी आए, लेकिन इस मामले ने चंबा से लेकर शिमला तक सियासी गलियारों में हड़कंप मचा दिया है। दूसरी ओर पुलिस को सौंपी शिकायत में विधायक ने बताया कि किसी चैनल के नाम से सोशल मीडिया पर उनके इस्तीफे की झूठी अफवाहें फैलाई जा रही हैं, जिसमें कहा गया है कि मंत्री पद न मिलने पर विक्रम जरयाल जल्द ही अपने विधायक पद से इस्तीफा दे सकता है। पोस्ट में यह भी लिखा है कि नए मंत्रिमंडल की लिस्ट से विधायक का नाम गायब होने पर वह इस्तीफ  देंगे। उन्होंने झूठा प्रचार करने वाले के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग की है। विधायक जरयाल ने कहा कि ऐसे झूठे मैसेज फैलाकर मुझे बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है।

चंबा का सियासी लेखा-जोखा

इस बार के लोकसभा चुनाव में चंबा जिला से भाजपा प्रत्याशी किशन कपूर को एक लाख से ज्यादा की लीड मिली है। अकेले भटियात की बात की जाएएतो यहां 77 फीसदी से उपर वोट भाजपा ने झटक लिए हैं। विधायक विक्त्रम जरियाल खुद किशन कपूर के कैंपेन को लीड कर रहे थे।

सारी टीम विधायक के साथ

विधायक के खिलाफ अफवाह फैलाने के खिलाफ  समूची भाजपा उनके साथ खड़ी हो गई है। भाजयुमो महामंत्री अनिक गुप्ता ने इसे जरियाल के खिलाफ षड्यंत्र बताया है। इसी तरह मीडिया प्रभारी अंशुल सूर्यवंशी, मंडल महामंत्री दिव्य चक्षु व कोषाध्यक्ष सुशील रतड़ा ने भी ऐसा करने वालों को फटकार लगाई है। साथ ही पुलिस से मांग की है कि ऐसे तत्त्वों के खिलाफ  सख्त एक्शन लिया जाए।

You might also like