जर्मनी से हिमाचल में निवेश की खुशबू

जर्मनी में हिमाचल
शिमला : हिमाचल में निवेश आकर्षित करने के प्रयास के तहत फ्रैंकफर्ट के राइनलैंड प्रांत के कृषि पर्यटन व परिवहन मंत्री डा. वाल्कर विसिंग के साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व अन्य

शिमला – हिमाचल में निवेश के न्यौते से जर्मनी के निवेशक काफी खुश हैं। उन्होंने माना कि हिमाचल भारत का बेहतरीन राज्य है, जहां के पहाड़ों की खूबसूरती सभी को भाती है। निवेश को लेकर हिमाचल की टीम को वहां से सकारात्मक संकेत मिले हैं। वहां से इन्वेस्टर मीट में लोग आएं, इसके लिए आमंत्रण दिया गया है।  निवेश आकर्षित करने के प्रयास के अंतर्गत मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने फ्रैंकफर्ट (जर्मनी) के राइनलैंड प्रांत के कृषि, पर्यटन, परिवहन और विटीकल्चर वाइन मेकिंग मिनिस्टर डा. वॉल्कर विसिंग से भेंट की। मुख्यमंत्री ने मंत्री डा. वॉल्कर को हिमाचल में कृषि, पर्यटन, परिवहन और अधोसंरचना क्षेत्रों में निवेश की व्यापक संभावनाओं के बारे में अवगत करवाया। सीएम ने मंत्री को राइनलैंड के सरकारी एवं व्यापार प्रतिनिधिमंडल के साथ हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में होने वाले वैश्विक निवेशक सम्मेलन में शामिल होने का आमंत्रण दिया। डा. विसिंग ने हिमाचल प्रदेश के साथ मिलकर कार्य करने में गहरी रुचि व्यक्त की। उन्होंने मुख्यमंत्री को जर्मनी द्वारा प्रयोग की जा रही तकनीकों को और गहराई से समझने के लिए दोबारा राइनलैंड आने का निमंत्रण दिया, जिसके माध्यम से जर्मनी सतत् एवं विश्व स्तरीय अधोसंरचना का निर्माण कर रहा है। उद्योग मंत्री विक्रम सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं प्रधान निजी सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान निजी सचिव विनय सिंह, फ्रैंकफर्ट में भारत के महा वाणिज्यदूत प्रतिभा पारकर, और कान्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री के प्रतिनिधि भी इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ रहे।

आज रात जाएंगे नीदरलैंड्स

हिमाचल की बुधवार को कई निवेशकों के साथ चर्चा होगी, जिनसे विस्तार में हिमाचल में निवेश की संभावनाओं को लेकर बात की जाएगी। बुधवार रात को ही सरकार नीदरलैंड्स के लिए रवाना होगी।

 

You might also like