जल्द प्रोमोट हो प्रिंसिपल

हरियाणा शिक्षा विभाग से प्रदेश स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन ने उठाई मांग

पंचकूला -हरियाणा स्कूल लेक्चरर एसोसिएशन (हसला) ने ट्रांसफर व प्रमोशन को लेकर शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों के गैर जिम्मेदाराना रवैए की कड़ी आलोचना की है। हसला प्रदेश उपाध्यक्ष भगवान दत्त ने कहा कि हसला प्रतिनिधिमंडल पिछले छह महीने में लगभग 10 बार शिक्षा विभाग के उप निदेशकों, निदेशक एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव से रिक्त पड़े प्राचार्य के पदों को भरने एवं नया सत्र शुरू होने से पहले निर्धारित समय पर ट्रांसफर ड्राइव शुरू करने संबंधी सुधारात्मक बिंदुओं को लेकर मिल चुका है। शिक्षा विभाग के आला अधिकारी हर बार यही आश्वासन देते रहे कि चंद दिनों में ही खंड शिक्षा अधिकारी एवं प्राचार्य की नियमानुसार पदोन्नति की जाएगी। लेकिन आजतक भी पदोन्नति मामले में शिक्षा विभाग की कोई तैयारी नहीं है।  प्राचार्य व खंड शिक्षा अधिकारियों के प्रदेश में 800 से ज्यादा पद खाली पड़े हैं, जबकि प्रदेश में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूलों की संख्या केवल 2200 है। दत्त ने शिक्षा विभाग के प्रमुख अधिकारियों पर सरकार की सर्वत्र प्रशंसनीय ट्रांसफर पॉलिसी को क्रियान्वित न करने का आरोप लगाया। श्री दत्त ने कहा कि प्राध्यापकों की वरिष्ठता सूची को लेकर उच्च शिक्षा अधिकारी भाई भतीजावाद एवं परिवारवाद को बढ़ावा दे रहे हैं।  हसला संगठन ने मनोहर खट्टर सरकार से मांग की है कि सरकार अधिकारियों से नियमानुसार प्राध्यापक सूची तैयार करवाएं तथा स्कूली शिक्षा में गुणात्मक सुधार हेतु तुरंत प्रभाव से सभी प्राचार्यों व खंड शिक्षा अधिकारियों की 800 रिक्तियां भरकर ट्रांसफर ड्राइव शुरू करें।

You might also like