जेबीटी कमीशन से हटाई जाए बीएड

चंबा—हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ की बैठक का आयोजन रविवार को राजकीय आदर्श कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चंबा के परिसर में किया गया। बैठक में संघ के प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र चौहान ने बतौर मुख्यातिथि उपस्थिति दर्ज करवाई, जबकि अध्यक्षता जिला प्रधान हरि प्रसाद शर्मा ने की। बैठक में शिक्षकों को पेश आ रही समस्याओं व मांगों के बारे में चर्चा कर आम सहमति से आगामी रणनीति तय की गई। इस दौरान संघ की जिला कार्यकारिणी ने प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र चौहान को सम्मानित भी किया।  बैठक में वक्ताओं ने जेबीटी कमीशन में बीएड को जगह देने को जेबीटी प्रशिक्षुओं के साथ अन्याय करार दिया। वक्ताओं ने जेबीटी के कमिशन से बीएड को हटाने की मांग उठाई। वक्ताओं ने लेफ्ट आउट पैरा अध्यापकों को अनुबंध अध्यापकों के बराबर दर्जा करने की भी मांग की गई। वक्ताओं ने कहा कि लेफ्ट आउट पीटीए अध्यापकों के स्थानांतरण के लिए नीति बनाई जाए तथा वेतन हेड से लेफ्ट आउट प्राध्यापकों को वेतन जारी किया जाए। वक्ताओं ने स्कूलों में रिक्त सभी पदों को भरने समेत प्री प्राइमरी स्कूलों में मिड-डे मील की व्यवस्था करने की भी मांग की गई। उन्होंने बताया कि पहले स्कूलों में एनटीटी अध्यापकों की भर्ती भी अनिवार्य है। मिडल स्कूलों में कला व भाषा अध्यापकों के पदों को भरने की मांग की गई। बीते लंबे समय से दोनों पदों को न भरने से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। वक्ताओं ने छात्र हित में रिक्त पड़े अध्यापकों के पदों को पदोन्नित एवं नियमित नियुक्ति से भरने की मांग भी की। उन्होंने एसएमसी अध्यापकों के लिए भी नीति निर्धारण की बात कही। बैठक में संघ के महासचिव सतिंद्र सिंह राणा, सचिव पंकज शर्मा, प्रदेश वित्त सचिव मुकेश शर्मा, महिला विंग की प्रदेशाध्यक्ष कविता बिजलवान ने भी अपने विचार रखे। संघ के प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र चौहान ने कहा कि जल्द इन मांगों को सरकार व शिक्षा विभाग से टेकअप कर सकारात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। बैठक में प्रदेश सहसचिव मनोज गुप्ता, राकेश बोहरा, मोनिका, देशराज, पूजा शर्मा, पवन कुमार, नारायण, अजय बेदी, सुरेंद्र मोहन, संदीप शर्मा, राजीव, चंद्रशेखर, परस राम, धीरज, खेमराज, विक्रम, अनिल,अमित, याकूब, धर्मचंद, निशांत, सतपाल ठाकुर, ठाकुर राम, रेणु शर्मा व विनय गुप्ता आदि मौजूद रहे।

You might also like