“जैसे को तैसा की नीति कारगर नहीं: उमर

 

श्रीनगर – इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग की ओर से आयोजित एक इफ्तार पार्टी में आमंत्रित किए गए मेहमानों को पाकिस्तानी अधिकारियों के परेशान करने संबंधी रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया करते हुए पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि जैसे को तैसा की यह नीति मूर्खतापूर्ण है। नेशनल कांफ्रेंस दल के उपाध्यक्ष श्री अब्दुल्ला ने ट्वीटर पर रविवार को कहा “जब भारत ने नई दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग के बाहर ऐसा किया तो यह मूखर्तापूर्ण था और अब पाकिस्तान में इस्लामाबाद के सेरेना होटल के बाहर पाकिस्तानियों द्वारा की गयी यह करतूत भी उसी तरह की बेवकूफी है। पूर्व मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि 30 मई को अधिकारियों ने नयी दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग द्वारा इफ्तार रात्रि भोज में मेहमानों को कथित तौर पर परेशान किया था। श्री अब्दुल्ला ने कहा, “शायद अब यह एक-एक से बराबर हो गया है और अब आगे बढ़ने के लिए इस तरह की बेहूदा हरकतों काे छोड़ना होगा। श्री अब्दुल्ला ने ट्विटर पर लिखा, “जैसे को तैसा की कूटनीति मूर्खतापूर्ण है। जब हमने नयी दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग के बाहर ऐसी हरकत की थी और यह मूर्खतापूर्ण हरकत थी और इसके बाद इस्लामाबाद में भारतीय मेहमानों के साथ ऐसी हरकत की गयी तो वह भी मूर्खता है और अब शायद यह एक-एक से बराबर हो गया है तथा इन बेवकूफी भरी हरकतों को छोड़कर आगे बढ़ने का समय आ गया है।”

 

You might also like