ठाठण-डुघ के 60 परिवार 25 दिन से अंधेरे में

राख —खुद की बहुमूल्य प्राकृतिक संपदा को खोखला एवं जर्जर कर दूसरों को रोशन करने वाले जनजातीय क्षेत्र भरमौर के तहत पड़ने वाली पूलन पंचायत के ठाठण एवं डुघ गांव के लोग खुद अंधेरे में जीवन यापन कर रहे हैं। पिछले करीब 25 दिनों से गांव में बिजली न होने से गांववासियों को सर्दी के दिनों की तरह गर्मी में भी बिना बिजली के भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ठाठण एवं डुघ गांव मंे करीब 60 परिवार गुजर बसर करते हैं, लेकिन बिजली के बिना डिजीटल दौर मंे उनके कई तरह के काम ठप हो गए हैं। गांवासियों में पिंकू राम, सोम दत्त कुलदीप, महिंद्र, योगेश, करनैल, धर्म चंद व राजेश सहित अन्य का कहना है कि जिस ट्रांसफार्मर से उन्हें बिजली सप्लाई की जाती है, वह जल गई है, लिहाजा 25 दिनों से गांव में अंधेरा पसरा हुआ है।  उधर, सहायक अभियंत विद्युत उपमंडल भरमौर विक्रम शर्मा का कहना है कि ट्रांसफर्मर जलने से समस्या पैदा हुई है, जल्द ही नया ट्रांसफार्मर लगा कर गांव की समस्या हल कर दी जाएगी। 

You might also like