ताला तोड़ बाल आश्रम से भागे चार बच्चे

सुजानपुर से आधी रात को ताला खोलकर हुए फरार, सीसीटीवी फुटेज में कैद हुआ कारनामा

 सुजानपुर —सुजानपुर बाल आश्रम से चार बच्चे मुख्य अधीक्षक रेजिडेंस का ताला खोलकर रविवार रात को फरार हो गए। उनके भागने की सारी जानकारी बाल आश्रम में लगे सीसीटीवी कैमरा में कैद हुई है। मौके पर पहुंची सुजानपुर पुलिस ने फरार हुए चारों छात्रों के फोटो एवं सीसीटीवी फुटेज रिकार्ड में लेकर छानबीन शुरू कर दी है। उधर, इस तरह से एकाएक चार बच्चों के गायब होने से बाल आश्रम प्रबंधक विभागीय कर्मियों में हड़कंप मच गया है। अभी चारों छात्र कहां हैं, किस तरफ  गए हैं, इसकी कोई जानकारी नहीं है। छानबीन को लेकर सुजानपुर पुलिस ने निकटवर्ती थानों में सीसीटीवी फुटेज एवं उनके फोटो भेज दिए हैं। छात्रों की तलाश जारी है। सुजानपुर थाना प्रभारी सुभाष शास्त्री ने बताया कि बाल आश्रम सुजानपुर अधीक्षक द्वारा चार छात्रों के गायब होने की सूचना थाना में दर्ज करवाई गई है। इसमें उन्होंने बताया अशोक कुमार निवासी बिहार, जगजीत निवासी हमीरपुर, महेंद्र कुमार निवसी जिला कांगड़ा बैजनाथ व विक्रांत निवासी ऊना बाल आश्रम से भाग निकले हैं। चारों छात्र अधीक्षक निवास का ताला खोलकर दीवार फांदने में कामयाब हुए हैं। चारों छात्र मध्यरात्रि करीब एक से दो के बीच उठते हैं और अधीक्षक निवास में लगा ताला खोलते हैं। उसके बाद दीवार फांदने के बाद एक-दूसरे छात्र की सहायता से दीवार फांदकर भाग जाते हैं। भागते हुए छात्र सुजानपुर बस स्टैंड की तरफ  जाते हुए दिखाई दिए हैं। अब छात्रों के गायब होने के बाद उनका तलाशी अभियान जोरों पर है। सभी कक्षा दसवीं, आठवीं और सातवीं के छात्र हैं। थाना प्रभारी सुभाष शास्त्री ने बताया कि चार छात्र गयब हुए हैं। उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

अब चौकीदार से होगी पूछताछ

बाल आश्रम के सुपरिंटेंडेंट अधीक्षक शिवदेव सिंह ने बताया रात्रि सुरक्षा के लिए चौकीदार ड्यूटी पर रहता है, जिस समय यह घटना हुई, उस समय भी चौकीदार ड्यूटी पर था। छात्र कैसे भागे, इस बारे चौकीदार से पूछताछ की जाएगी। ड्यूटी पर होने के बावजूद उसके सामने से बच्चे कैसे भागे इस पर पूरी जांच-पड़ताल की जाएगी। छात्रों के भागने संबंधी सूचना उनके परिजनों तक पहुंचा दी गई है। इसके साथ ही विभागीय उच्चाधिकारियों के पास सूचना भेजी गई है। चौकीदार की कार्रवाई को लेकर भी विभागीय उच्चाधिकारियों को अवगत करवाया गया है।

You might also like