दसवीं के छात्र ने लगाया फंदा

सुजानपुर—पुलिस थाना सुजानपुर के तहत दसवीं के छात्र ने घर पर फंदा लगाकर जान दे दी। परिवार खेतों में काम करता रहा और बेटे ने घर पर फंदा लगा लिया। जब परिजन खेतों से काम करके वापस लौटे तो नाबालिग फंदे से झूल रहा था। ये देखकर परिजनों के होश उड़ गए। उन्होंने तुरंत उसे फंदे से नीचे उतारा, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। पुलिस को भी इसकी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। हालांकि फंदा लगाने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। जानकारी के अनुसार सुजानपुर के ही एक गांव के 15 वर्षीय नाबालिग ने घर के कमरे में छत से फंदा लगा लिया। रस्सी का फंदा बनाकर नाबालिग छत से झूल गया। मृतक दसवीं कक्षा का छात्र बताया जा रहा है। गुरुवार को सरकारी अवकाश होने के कारण वह घर पर ही था। सुबह अपने परिजनों के साथ खेतों में काम करने के लिए गया था। थोड़ी देर बाद वह घर वापस लौट आया। उसकी दादी व मां खेतों मंे ही काम कर रहे थे। घर आकर नाबालिग ने कमरे में छत्त से फंदा लगा लिया। सूत्रों की मानंे तो नाबालिग मानसिक तौर पर सही ढंग से विकसित नहीं था। फिर भी नाबालिग ने फंदा क्यों लगाया,  इन कारणों की जांच में पुलिस जुटी हुई है। पुलिस ने परिजनों के बयान कलमबद्ध किए हैं। हरेक पहलू से मामले की जांच की जा रही है। पुलिस थाना प्रभारी सुजानपुर सुभाष शास्त्री ने बताया कि फंदा लगाकर एक नाबालिग ने अपनी इहलीला समाप्त की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा गया है। अभी तक फंदा लगाने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। परिजनों सहित आस पड़ोस से भी पूछताछ की गई है।

 

You might also like