दादी-पोते पर झपटे बंदर

परागपुर—परागपुर में इन दिनों बंदरों ने इस कदर उत्पात मचा रखा है कि समूचे गांव के बुजुर्ग, महिलाएं व बच्चे दहशत में जीने को मजबूर हो गए हैं। स्थानिये लोगों की माने तो बंदर दिनदहाड़े  घरों में घुस कर खूब उत्पात मचा रहे हैं, लेकिन अब लोगों पर भी हमला करने लग पड़े हैं। हद तो उस समय हो गई जब परागपुर निवासी सुुुभाष कुमार की पत्नी ऊषा देवी इन उत्पाती बंदरों की वजह से अपनी बाजू तुड़वा बैठी। सुभाष कुमार ने बताया कि उनकी पत्नी अपने एक साल पोते को लेकर घर के आंगन में बैठी हुई थी कि अचानक बंदरों के झुंड ने दादी-पोते पर धावा बोल दिया। छोटे बच्चे को बचाने के चक्कर में ऊषा देवी  आंगन में गिर पड़ीं व उसकी एक बाजू फ्रैक्चर हो गई तथा दूसरी बाजू में भी चोट आई है।  घायल महिला टांडा में दाखिल है । लोगों ने स्थानीय प्रशासन से मांग की है कि जल्द से जल्द उक्त बंदरों से निजात दिलवाई जाए अन्यथा यह किसी बड़ी घटना को भी अंजाम दे सकते हैं। डीएफओ देहरा राज कुमार डोगरा ने कहा कि बंदरों को  मारना ही समस्या का सही हल है। अगर गांव में कोई बंदूकधारी हो तो बंदरों को मरवाया जा सकता है।  बंदरों को मारने की परमिशन कार्यालय से दे दी जाएगी।

You might also like