दूसरा दिन…मरीजों को राहत नहीं

बिलासपुर अस्पताल में डाक्टर न मिलने से ओपीडी के बाहर लगी भीड़

बिलासपुर—डाक्टरों की हड़ताल दूसरे दिन में प्रवेश कर गई है। क्षेत्रीय अस्पताल में डाक्टरों की पेन डाउन हड़ताल के चलते मरीजों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। सुबह के दो घंटों तक मरीजों का स्वास्थ्य रामभरोसे रहा। यहां रोजाना एक हजार के करीब ओपीडी रहती है। अस्पताल की ओपीडी में गुरुवार सुबह से ही मरीजों की भीड़ जमा होने शुरू हो चुकी थी। ओपीडी में डाक्टर उपलब्ध होने की वजह से उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा। कई मरीजों को अपना इलाज करवाने के लिए प्राइवेट अस्पतालों की शरण लेनी पड़ रही है। अस्पताल में ओपीडी देर से चलने के कारण लोगों को लैब में अपने टेस्ट करवाने के लिए भी एक के बजाय दो दिनों तक चक्कर काटने पड़ रहे हैं। इससे मरीजों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। एसोसिएशन ने मांग की है कि अस्पतालों में उचित सुरक्षा व्यवस्था मुहैया करवाई जाए। बताते चलें कि सुबह 11ः30 बजे के बाद वार्ड राउंड हो रहे हैं। उसके बाद दोपहर तक ओपीडी में मरीजों के चैकअप का सिलसिला शुरू हो रहा है। इसके कारण मरीजों को अब एक दिन में ही सारी सुविधा नहीं मिल पा रही। प्रदेश मेडिकल आफिसर्ज एसोसिएशन के आह्वान पर शुरू हुई दो घंटे की पेन डाउन स्ट्राइक का समर्थन पूरे जिला के सभी सरकारी अस्पतालों में तैनात चिकित्सक कर रहे हैं।

You might also like