दूसरे राज्यों के छात्र कब्जा रहे मेडिकल कालेजों की सीटें

चंडीगढ़ – पंजाब एकता पार्टी (पीईपी) अध्यक्ष सुखपाल सिंह खेहरा ने आरोप लगाया कि दाखिला प्रक्रिया में विसंगतियों के कारण दूसरे प्रदेशों के छात्र पंजाब के चिकित्सा कालेजों की सीटें कब्जा रहे हैं। उन्होंने मांग की है कि प्रदेश सरकार पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के आदेशानुसार दाखिला प्रक्रिया में संशोधन करे। यहां जारी बयान में श्री खेहरा ने कहा कि वर्तमान दाखिला प्रक्रिया के कारण स्थानीय प्रतिभाशाली छात्रों के साथ अन्याय हो रहा है। उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय ने 2014 में आदेश देकर एमबीबीएस में प्रवेश के नियमों को बदलने के लिए कहा था। वर्तमान नियमों के अनुसार 12वीं कक्षा पंजाब से पास करने वाले छात्र सरकारी चिकित्सा कालेजों में प्रवेश पा सकते हैं। श्री खेहरा ने आरोप लगाया कि हरियाणा और हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ से भी छात्र पंजाब के स्कूलों में ‘फर्जी’ प्रवेश लेते हैं और निजी कोचिंग के जरिए पीएमटी एंटरेंस टेस्ट में अधिक अंक लाकर सीटों पर कब्जा कर रहे हैं।  उन्होंने दावा किया कि पिछले साल 35 ऐसे छात्रों की शिनाख्त की गई, जो दूसरे राज्यों से थे पर पंजाब के सरकारी चिकित्सा कालेजों में जिन्हें प्रवेश दिया गया।

You might also like