धारा-370 पर जदयू नरम

विरोध पर रुख कायम, लेकिन एनडीए से अलग नहीं होगी पार्टी

पटना – जदयू ने रविवार को स्पष्ट किया कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार यदि जम्मू-कश्मीर से संबंधित धारा-370 को हटाने का फैसला लेती है तो पार्टी एनडीए में रहकर इसका विरोध करेगी, लेकिन इस मामले को लेकर नाता नहीं तोड़ेगी। जदयू के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने बिहार के मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जदयू का कश्मीर से संबंधित धारा-370, समान आचार संहिता और राम जन्म भूमि विवाद के मामले में पहले से घोषित रुख कायम है। श्री त्यागी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि यदि नरेंद्र मोदी सरकार कश्मीर से संबंधित धारा-370 हटाने का निर्णय लेती है और इससे संबंधित कोई प्रस्ताव आता है तो उनकी पार्टी राजग में रहते हुए इसका विरोध करेगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस मामले को लेकर जदयू राजग से नाता नहीं तोड़ेगी, लेकिन गठबंधन में रहकर पूरी मजबूती से विरोध करेगी।

बिहार से बाहर अकेले चुनाव लड़ेगी जदयू

पटना – जनता दल यूनाइटेड बिहार राज्य के बाहर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का हिस्सा नहीं होगा। यह फैसला रविवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया है। जदयू अपने दम पर जम्मू-कश्मीर, झारखंड, हरियाणा और दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। इस बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रशांत किशोर, वशिष्ठ नारायण सिंह और केसी त्यागी मौजूद थे। इस बैठक में जेडीयू अपना आगे का रोडमैप तैयार किया है। इसके बाद ही यह निर्णय लिया गया है।

You might also like