धुआं-धुआं हुआ पांवटा शहर

पांवटा साहिब-पांवटा साहिब में नगर परिषद के कूड़ा डंपिंग साइट पर कचरे में शरारती तत्त्वों ने आग लगा दी, जिसके कारण शहर धुआं-धुआं हो गया। हजारों टन कचरे ने तेजी से आग पकड़ ली जिससे काफी देर तक शहर के भीतर धुआं फैला रहा। हालांकि सूचना पर नगर परिषद के कर्मी और फायर ब्रिगेड सहित स्थानीय लोग भी मौके पर पहुंचे और आगजनी पर काबू पाया, लेकिन तब तक आग ने काफी कूड़ा जला दिया था जिससे पांवटा साहिब नगर में काफी प्रदूषण फैला। इस आगजनी के बाद से शहर मंे अफरा-तफरी रही और खासकर सांस के रोगी परेशान दिखे। दरअसल अभी नगर परिषद की स्थाई डंपिंग साइट नहीं बनी है, जिस कारण फिलहाल नदी के पास के खाली क्षेत्र में शहर का कूड़ा डंप किया जा रहा है। शनिवार दोपहर को किसी शरारती तत्त्व ने इस कूड़े में आग लगा दी। भारी गर्मी और तेज हवा के कारण आग बड़ी तेजी से फैली, जिसे कड़ी मशक्कत के बाद काबू किया गया। पर्यावरण प्रेमियो का कहना है कि इससे नगर में प्रदूषण फैल गया। कचरे के धुएं से आंखों में भी मिर्ची सी लग रही है। सांस के रोगियों को सांस लेने मंे दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नगर परिषद और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को ऐसे तत्त्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए और जल्द से जल्द कूड़ा डंपिंग साइट का निर्माण पूरा करना चाहिए। उधर, इस बारे नगर परिषद पांवटा साहिब के जेई ललित गोयल ने बताया कि नगर परिषद के कर्मियों और फायर ब्रिगेड द्वारा आगजनी पर काबू पा लिया गया है। पूछताछ की जा रही है कि यह शरारत किसने की है। फिलहाल नगर परिषद अज्ञात शरारती तत्त्वों के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवा सकती है। वहीं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एसई श्रवण कुमार ने बताया कि नगर परिषद को इस मामले मंे कई दफा नोटिस दिया जा चुका है। फिर से नोटिस जारी किया जा रहा है। यदि मामले में नगर परिषद ने जल्द ठोस कदम नहीं उठाए तो जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कोर्ट के माध्यम से मामले भी दर्ज किए जा सकते हैं।

You might also like