धोनी के ‘बलिदान’ में आत्मसम्मान के लिए लड़ेगा हिन्दुस्तान

 

धोनी के ‘बलिदान’ में आत्मसम्मान के लिए लड़ेगा हिन्दुस्तान

लंदन- भारतीय क्रिकेट टीम विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के दस्तानों पर बलिदान बैज से उठे विवाद से बाहर निकलकर गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रविवार को होने वाले आईसीसी विश्व कप मुकाबले में जीत और आत्मसम्मान के लिए लड़ेगी।
भारत ने इस विश्व कप में अपना अभियान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शानदार जीत के साथ शुरू किया था लेकिन इस पर धोनी के विकेटकीपिंग दस्तानों पर लगे भारतीय सेना के बलिदान बैज को लेकर उठे विवाद ने ग्रहण लगा दिया। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस विवाद में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से इस मामले में लचीलापन दिखाने की अपील की थी लेकिन आईसीसी ने भारतीय बोर्ड का आग्रह सिरे से ठुकरा दिया था। अब धोनी अपने दस्तानों के साथ तो खेलेंगे लेकिन उन्हें इस चिन्ह को ढकने के लिए उस पर बैज लगाना होगा।विश्व की नंबर दो टीम भारत और गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के बीच बहु प्रतीक्षित मुकाबले से 48 घंटे पहले यह विवाद विश्व कप पर छाया रहा और मामला इतना तूल पकड़ गया कि भारतीय खेल मंत्री किरन रिजिजू को इस मामले में बयान देना पड़ गया। अब यदि धोनी कल के मैच में इन दस्तानों के साथ उतरते हैं तो उन्हें आईसीसी की फटकार का सामना करना पड़ेगा। रविवार को मैच शुरू होने पर भारत के क्षेत्ररक्षण करते समय सभी निगाहें धोनी के दस्तानों पर रहेंगी कि वह बलिदान के चिन्ह को किस तरह ढक कर आते हैं।

 

You might also like