नगर परिषद का डंडा गरीबों पर ही चला

हमीरपुर—नगर परिषद हमीरपुर ने महज दिखावे के लिए मंगलवार को शहर में अतिक्रमण के खिलाफ मुहिम छेड़ी। इस दौरान बिना परमिशन रेहड़ी लगाए दुकानदारों पर कार्रवाई की गई। हैरत की बात थी कि नगर परिषद गरीबों पर कहर बनकर टूट पड़ी, जबकि रसूखदारों पर मेहरबान रही। रेहड़ी-फड़ी वालों की सब्जी व फल उठाकर गाड़ी में भर लिए, जबकि रसूखदार दुकानदारों को सिर्फ चेतावनी ही देकर छोड़ा। इसी बात को लेकर एक दुकानदार की बहसबाजी भी नगर परिषद के कर्मचारियों के साथ हो गई। हर कोई नगर परिषद की कार्यशैली को सवालों के कटघरे में खड़ा करता दिखा। जिला प्रशासन के निर्देशानुसार कार्रवाई के लिए उतरी नगर परिषद का कार्य लोगों को रास नहीं आया। सिर्फ प्रशासनिक अधिकारियों को खुश करने के लिए हुई यह कार्रवाई हर किसी को अखर रही थी।  बता दें कि जिला प्रशासन ने शहर को अतिक्रण मुक्त करने के निर्देश जारी किए हैं। निर्देशानुसार मंगलवार को दोपहर बाद नगर परिषद दलबल के साथ अतिक्रमण व रेहड़ी-फड़ी वालों की पर्चिंयां चैक करने के लिए पहुंच गई। इस दौरान कई दुकानदार बिना पर्ची कटवाए सब्जी व फल बेचते हुए मिले। इस पर तुंरत कार्रवाई करते हुए इनका सामान जब्त कर लिया गया। हालांकि कई दुकानदारों ने समय रहते अपनी पर्ची दिखा दी, लेकिन इनका सामान भी जब्त होने वाला था। हैरत की बात है कि नगर परिषद ने सिर्फ गरीबों पर ही अपनी धौंस दिखाई। रसूखदारों के आगे किसी की जुबान तक नहीं खुली। जब नगर परिषद ने एक मेहंदी वाले का सामान उठाया, तो बवाल मच गया। जिस लाइन से इसका सामान उठाया गया उसी लाइन में रसूखदारों का सामान भी रखा हुआ था, लेकिन उनका सामान उठाने की नगर परिषद को हिम्मत तक नहीं हुई। बवाल से नगर परिषद के कर्मचारी बचते हुए नजर आए, सिर्फ गरीबों पर ही सब जमकर भड़क रहे थे। आनन फानन में कुछ दुकानदारों को गलती से सामान उठा लिया गया।

You might also like