नशे की ओवरडोज से दो की मौत

डमटाल के भदरोया में मिले शव, पठानकोट के रहने वाले थे दोनों युवक

ठाकुरद्वारा – जिला कांगड़ा के गांव भदरोया में दो युवकों के शव बरामद हुए है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में माना जा रहा है कि दोनों की मौम नशे की ओवरडोज की वजह से हुए है। जानकारी के अनुसार एक शव गुरु रविदास मंदिर के पास चक्की खड्ड को जाती सीढि़यों पर  ओर दूसरा शव चक्की खड्ड के किनारे  झाडि़यों के बीच मिला है। दो युवकों की मौत से क्षेत्र में दशहत का माहौल है। गौरतलब कि स्थानीय लोगों ने शव देखें तो वे सन्न रह गए।  लोगो ने  इसकी सूचना डमटाल पुलिस थाना को दी । सूचना मिलते ही डमटाल पुलिस थाना के प्रभारी अजीत कुमार एएसआई गुरध्यान, एएसआई शेर सिंहए ढांगू पुलिस चौकी के प्रभारी संजय शर्मा और पुलिस दल के साथ मौका पर पहुंचे । डीएसपी नूरपुर साहिल अरोड़ा भी मौका पर पहुंचे और दोनों शवों को  अपने कब्जे में लिया।  युवकों की उम्र 25 वर्ष के लगभग  बताई जा रही है । इनमें से एक की  शिनाख्त कर्ण रंधावा पुत्र भूपिंदर रंधावा गांव गंधला लाहड़ी नजदीक सुजानपुर  तहसील पठानकोट के रूप  में हुई है, जबकि दूसरे युवक की  शिनाख्त राम पुत्र शाम लाल निवासी पठानकोट के रूप में हुई है। पुलिस ने दोनों   शवों को अपने कब्जे में ले लिया है और नूरपुर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए शवो को भेज दिया है। पोस्टमार्टम के बाद शव उनके परिजनों के हवाले कर दिए हैं। नूरपुर के डीएसपी साहिल अरोड़ा ने बताया कि भद्रोया गांव से दो युवकों के शव बरामद किए गए हैं। प्राथमिक जांच में उनकी मौत नशे की ओवरडोज से हुई लगती है। पुलिस पूरी गहनता से छानबीन कर रही है। फिलहाल पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही सारी स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। पुलिस थाना डमटाल में धारा 174 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है ।

भदरोया में स्थापित हो अस्थायी पुलिस चौकी

भदरोया में इससे पहले भी कई युवाओं की मौत ओवरडोज लेने से हो चुकी है। इस पर नुकेल कसने के लिए  कुछ महीने पहले हिमाचल, पंजाब पुलिस ने यहां  नशे के खत्मे के लिए संयुक्त अभियान छेड़ा था। हिमाचल प्रदेश पुलिस द्वारा गुरु रविदास मंदिर के पास एक 24 घंटे नाका लगाया गया था और काफी हद तक इस कारोबार पर काबू पा लिया था पर न जाने पुलिस विभाग या सरकार की क्या मजबूरी आन खड़ी हुई के इस जगह लगाई गई अस्थायरी चौकी के स्टाफ  को वापस बुला लिया। ऐसे म फिर पुराने हालात ही उत्पन्न हो गए हैं । सैकड़ों की संख्या में युवक प्रतिदिन  नशे को खरीदने के लिए बेख़ौफ होकर भदरोया आ रहे हैं और नशे के सौदागर भी  बेख़ौफ   नशे के नाम पर मौत बेच रहे है । पुलिस को समय रहते फिर से भदरोया में अस्थायी चौकी स्थापित करनी चाहिए ।

You might also like