नहीं बदलेगा छुट्टियों का शेड्यूल

शिक्षक संगठनों से सुझाव लेने के बाद भी नहीं हो पाया कोई फैसला, 26 जून से 36 दिन का अवकाश

शिमला – हिमाचल के सरकारी स्कूलों में इस बार भी छुट्टियों के शेड्यूल में कोई खास बदलाव नहीं होगा। पहले की तरह ही स्कूलों में छात्रों को छुट्टियां मिलेंगी। प्रदेश के समर व विंटर स्कूलों में 52 छुट्टियां छात्रों को दी जाएंगी। इसके तहत विंटर स्कूलों में छात्रों को 47 का और समर स्कूलों में 36 दिन का वेकेशन छात्रों को मिलेगा। वहीं बरसात और सर्दियों में होने वाले अवकाश का शेड्यूल भी वैसा ही रहेगा। सूत्रों की मानें, तो उच्च शिक्षा विभाग के प्रोपोजल को सरकार ने मंजूर कर दिया है। सरकार के पास पहुंचे छुट्टियों के प्रोपोजल के मुताबिक वेकेशन के शेड्यूल में शिक्षा विभाग ने केवल दो व तीन दिन आगे पीछे किए हैं। यानी कि ग्रीष्मकालीन स्कूलों में पहले जिस तरह से 25 जून से अवकाश होता था, उसे अब बदलकर 26 जून कर दिया है। वहीं विटंर में होने वाली छुट्टियों की तिथि भी एक व दो दिन इसी तरह आगे करने का प्लान शिक्षा विभाग का है। फिलहाल सवाल यह है कि जब शिक्षा विभाग को अपने ही शेड्यूल के मुताबिक स्कूलों में छुट्टियां करनी थी, तो फिर 20 मान्यता प्राप्त शिक्षक संगठनों के सुझाव क्यों लिए गए। उच्च शिक्षा विभाग की इस कार्यप्रणाली पर अब कई सवाल उठने भी शुरू हो गए हैं। हैरानी तो इस बात की है कि स्कूलों में स्प्रिंग ब्रेक भी नहीं होगी, जबकि शिक्षा विभाग ने गर्मियों में स्कूलों में दस दिन की स्प्रिंग ब्रेक देने की भी घोषणा की थी। उधर, छुट्टियों के शेड्यूल में सुझाव के मुताबिक बदलाव न करने पर शिक्षक संगठन भड़क गए हैं। सी एंड वी शिक्षक संघ के अध्यक्ष चमन शर्मा का कहना है कि छुट्टियों का शेड्यूल सुझाव के मुताबिक नहीं हुआ, तो इसका कड़ा विरोध किया जाएगा।

फिर बरसात झेलेंगे छात्र

बता दें कि पिछले साल अगस्त माह की प्रलयकारी बरसात के चलते कई दिन तक स्कूल बंद रखने पड़े थे। इसके चलते शिक्षा उच्च निदेशालय ने 16 जुलाई से 20 अगस्त तक स्कूल बंद रखने का नया प्रस्ताव तैयार किया था। हैरत है कि उच्च शिक्षा निदेशालय एक वर्ष बीत जाने के बावजूद राज्य सरकार से इस प्रस्ताव को मंजूर नहीं करवा पाया। हर साल की तरह इस साल भी छात्रों को बरसात व सर्दियों के मौसम में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।

You might also like