नारायणगढ़ में सुरक्षाकर्मी हत्याकांड मामले में तीन गिरफ्तार

नारायणगढ़ – दो जून को ईएएसआई सुरेश कुमार की हत्या मामले में पुलिस ने मोटरसाइकिल सवार तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश कर उनका पांच दिन का रिमांड हासिल किया है। गौरतलब है कि दो जून को बड़ागांव के अध्यापक सेशन जज की हत्याकांड के मुख्य आरोपी रामबीर की दुकान पर कुछ लोग आए और मोटरसाइकिल ठीक करवाने की बात कही। उन पर शक होने पर रामबीर ने अपने सुरक्षाकर्मी ईएएसआई सुरेश कुमार को बुलाया और जैसे ही सुरेश कुमार ने उनके कागजात की जांच करनी चाही, तो उन्होंने सुरेश कुमार पर गोली चला दी। सुरेश कुमार की वहीं मृत्यु हो गई और आरोपी मोटरसाइकिल छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने इस मामले में एक नाबालिग को गिरफ्तार किया था। इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक मोहित हांडा ने बताया कि आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए उप-पुलिस अधीक्षक नारायणगढ़ अमित भाटिया के नेतृत्व में सीआईए-1 और सीआईए-2, सीआईए नारायणगढ़, थाना प्रबंधक नारायणगढ़ व साइबर सेल अंबाला की संयुक्त टीम का गठन किया गया था। इस मामले में शनिवार को सीआईए-1 के पुलिस दल ने कार्रवाई करते हुए आरोपी प्रिंस निवासी दयालबाग, अंबाला, राहुल कुमार निवासी कानपुर व शुभम उर्फ ऋतिक उर्फ काली निवासी महेशनगर, अंबाला को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि हत्या के मामले में मुख्य गवाह रामबीर की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए एएएसआई सुरेश कुमार को गार्ड नियुक्त किया गया था। दो जून को मोटरसाइकिल सवार तीन आरोपियों ने ड्यूटी के दौरान सुरेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में नाहरपुर जिला यमुनानगर निवासी मामचंद की शिकायत पर नारायणगढ़ थाना में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में आरोपियों की मदद करने वाले नाबालिग को सीआईए नारायणगढ़ के पुलिस दल द्वारा गिरफ्तार किया गया था। रिमांड के दौरान आरोपियों से पूछताछ कर इस वारदात के संबंध में बरामदगी की जाएगी, इस साजिश से जुड़े अन्य लोगों के बारे पता लगाया जाएगा।

You might also like