नालागढ़ शहर पर सीसीटीवी की नजर

नालागढ़ -नालागढ़ शहर अब तीसरी आंख की नजर में कैद हो गया है। शहर के मुख्य स्थलों पर अब सीसीटीवी कैमरे स्थापित कर दिए गए हैं। पुलिस और नगर परिषद के संयुक्त तत्त्वावधान में स्थापित इन सीसीटीवी से असामाजिक एवं आपराधिक गतिविधियां कैद होगी, जो जहां शरारती तत्त्वों पर नकेल लगाएंगे, वहीं किसी प्रकार की अनहोनी में पुलिस के लिए मददगार साबित होंगे। इन सीसीटीवी कैमरों की मॉनिटरिंग पुलिस अधीक्षक कार्यालय बद्दी से होगी और किसी भी प्रकार की असामाजिक गतिविधि इसमें कैद होने के उपरांत तुरंत उस पर संज्ञान लिया जाएगा। जानकारी के अनुसार जिला पुलिस ने नगर परिषद नालागढ़ व बद्दी से प्राप्त 15 लाख, जिला प्रशासन की ओर से प्राप्त दो लाख की धनराशि से जहां समूचे बीबीएन में सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए हैं, वहीं बीबीएनआईए से की गई बैठक में उद्योगों को भी सीसीटीवी लगाने के लिए प्रेरित किया गया है। इसी कड़ी में नालागढ़ शहर भी सीसीटीवी की जद में आ गया है। पुलिस के अनुसार औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में 835 सीसीटीवी स्थापित कर लिए गए हैं, जिसमें से पिछले चार माह में पुलिस द्वारा 129 सीसीटीवी कैमरे स्थापित किए गए है, वहीं उद्योगों द्वारा भी 706 सीसीटीवी लगा दिए गए हैं। इसके लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सीसीटीवी का केंद्रीय नियंत्रण कक्ष तैयार किया जा रहा है, जो ऑनलाइन रूप से एसपी कार्यालय के अलावा पुलिस थानों से सीधे रूप से जोड़ा जाएगा, ताकि किसी भी प्रकार की विपदा की स्थिति में तुरंत इसका प्रयोग करके शरारती व असामाजिक तत्त्वों पर नकेल कसी जा सके। बता दें कि शहर में मंदिरों से चोरी की घटनाएं, दुकानों का शटर तोड़ चोरी की वारदातों के अलावा चेन स्नेचिंग, एटीएम तोड़ने का प्रयास, बैंकों से पैसे निकालने पर नकदी छीनने, मारपीट व झगड़ों सहित कई वारदातें हो चुकी हैं, जिसमें पुलिस के हाथों आरोपियों तक पहंुचने में परेशानी होती है। एसीसीटीवी की नजर में रहने से आपराधिक घटनाओं पर भी विराम लगेगा। पुलिस अधीक्षक बद्दी रोहित मालपानी ने कहा कि नगर परिषद व जिला प्रशासन से प्राप्त धनराशि से बीबीएन क्षेत्र में सीसीटीवी स्थापित कर दिए है, जिसमें नालागढ़ शहर को भी इस सुविधा से जोड़ा गया है।

 

You might also like