नाहन में फंसा संगड़ाह का राजस्व रिकार्ड

संगड़ाह—नागरिक उपमंडल संगड़ाह के अंतर्गत आने वाली एक दो तहसील व एक उपतहसील के मुसाबी, बंदोबस्ती अभिलेख व जमाबंदी जैसे राजस्व रिकार्ड को जिला मुख्यालय नाहन से संगड़ाह लिए जाने को विभाग की स्वीकृति मिलने के बावजूद स्थानीय प्रशासन द्वारा उक्त दस्तावेजों को रिसीव करने की जहमत नहीं उठाई गई। उपायुक्त सिरमौर द्वारा सातवें जनमंच में खाद्य आपूर्ति मंत्री के समक्ष उठाए गए उक्त मामले अथवा शिकायत का निस्तारण करते हुए राजस्व रिकार्ड ले जाए जाने के मुद्दे पर एसडीएम संगड़ाह को अधिकारिक पत्र जारी किया गया था। जिला राजस्व अधिकारी द्वारा भी उपमंडल संगड़ाह के संबंधित प्रशासनिक अथवा राजस्व अधिकारियों को उक्त रिकार्ड ले जाने बारे लिखा जा चुका है। उपायुक्त कार्यालय द्वारा जारी पत्र में यहां उक्त रिकार्ड रखने व किसानों को जारी करने के लिए एक पटवारी व एक वरिष्ठ सहायक को जिम्मेदारी सौंपने की भी बात कही गई है। भाजपा मंडल अध्यक्ष प्रताप तोमर ने इस बारे जारी पत्र का हवाला देते हुए कहा कि पहली फरवरी को उन्होंने जनमंच में उठे इस मामले को लेकर उपायुक्त सिरमौर से चर्चा की थी। उन्होंने खाली पड़े पुराने तहसील कार्यालय के भवन में रिकार्ड स्थानांतरित करने का सुझाव दिया था। अब उक्त दस्तावेज डीआरओ कार्यालय नाहन में होने के चलते क्षेत्रवासियों को बार-बार 60 से 100 किलोमीटर दूर जिला मुख्यालय के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। गत दो दिसंबर को अंधेरी गांव में आयोजित जनमंच में पूर्व पंचायत प्रधान एवं भाजपा मंडल महासचिव जगत सिंह द्वारा उक्त मुद्दा खाद्य आपूर्ति मंत्री के समक्ष उठाया गया था। मंत्री के निर्देशों के बाद तहसीलदार व एसडीएम संगड़ाह द्वारा जिला राजस्व अधिकारी सिरमौर को उक्त रिकार्ड शिफ्ट करने की प्रपोजल भेजी गई थी, जिसे तुरंत स्वीकृति मिल गई थी। गत 18 नवंबर को तहसील कार्यालय मिनी सचिवालय में शिफ्ट होने के चलते खाली पड़े पुरानी तहसील भवन में यह रिकार्ड स्थानांतरित किया जाएगा। राजस्व रिकार्ड भेजने के साथ-साथ संगड़ाह में भू-अभिलेख कानूनगो तथा बस्ताबरदार के पद भी शिफ्ट अथवा सृजित किए जाने हैं। भाजपा मंडल पदाधिकारियों ने उक्त रिकार्ड शिफ्ट होने संबंधी कार्रवाई शुरू करने के लिए हिमाचल के खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर तथा जिला प्रशासन का धन्यवाद किया। एसडीएम संगड़ाह राहुल कुमार ने बताया कि उक्त मामला उनके कार्यकाल से पहले का है तथा वह इस बारे स्थानीय तहसीलदार को उचित कार्रवाई के लिए कहेंगे। उन्होंने कहा कि जल्द रिकार्ड रूम स्थापित अथवा चालू करने के प्रयास किए जाएंगे।

You might also like