नाहन में सड़कों पर उतरे सैकड़ों प्रशिक्षु डाक्टर

नाहन—पश्चिमी बंगाल में चिकित्सकों के हड़ताल के समर्थन में हिमाचल के डाक्टर्ज भी सड़क पर उतर गए हैं। जिला सिरमौर के नाहन स्थित डा. वाईएस परमार मेडिकल कालेज के सीनियर रेजिडेंट डाक्टरों सहित मेडिकल कालेज के 200 से अधिक प्रशिक्षित चिकित्सक भी सड़कों पर उतरे। इस दौरान बंगाल सरकार के खिलाफ नाहन शहर में जमकर रोष प्रदर्शन किया गया। पश्चिम बंगाल में दो जूनियर डाक्टरों की पिटाई प्रकरण के बाद डा. यशवंत सिंह परमार मेडिकल कालेज नाहन के वरिष्ठ चिकित्सकों सहित एमबीबीएस के तमाम प्रशिक्षु चिकित्सकों ने हड़ताल का समर्थन करते हुए सड़कों पर उतर कर पश्चिम बंगाल सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया। सीनियर डाक्टर्ज के साथ 200 से भी अधिक प्रशिक्षु चिकित्सकों ने मेडिकल कालेज नाहन से गुन्नूघाट मालरोड होते हुए सड़कों पर उतरकर जूनियर डाक्टर के खिलाफ हुए आक्रमण को लेकर बंगाल सरकार के खिलाफ रोष व्यक्त किया। पश्चिम बंगाल के डाक्टरों की हड़ताल के समर्थन में नाहन मेडिकल कालेज के डाक्टर वरिष्ठ चिकित्सक डा. अजय शर्मा, डा. सतीश, डा. ललित, डा. अक्षय, डा. वीके कौशिक, डा. केके शर्मा तथा प्रशिक्षु चिकित्सक अर्पित, अभिनव, अजय, जतिन, कीति खन्ना, इशिता आदि ने ड्यूटी के दौरान डाक्टरों की सुरक्षा व्यवस्था बनाने तथा दोषियों की गिरफ्तारी को लेकर केंद्र सरकार से मांग भी की। वरिष्ठ चिकित्सक डा. अजय शर्मा का कहना है कि कोई भी चिकित्सक जान-बूझकर इलाज में कोताही नहीं बरतते हैं। अगर डाक्टर लापरवाही करते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा सकती है, मगर कानून को हाथ में लेते हुए उन पर हमले किया जाना गलत बात है। गौर हो कि एनआरएस मेडिकल कालेज कोलकाता में सोमवार की रात एक मरीज की मौत के बाद नाराज परिजनों ने दो जूनियर डाक्टरों को बुरी तरह से पीट दिया था। घटना के बाद डाक्टर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने तथा दोषियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। इसी प्रकरण को लेकर हिमाचल के तमाम चिकित्सक भी विरोध में उतर चुके हैं।

You might also like