निष्क्रिय ठेकेदारों को करो बाहर

 सुंदरनगर—नगर परिषद सुंदरनगर की बैठक विधायक राकेश जम्वाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई। विधायक ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि जो ठेकेदार पिछले तीन माह से विकास कार्यों को तव्वजों नहीं दे रहे हैं, उन्हें नोटिस जारी करके नए सिरे से विकास कार्यों के टेंडर निकाले जाएं। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि हाउस टैक्स की वसूली में कौताही नहीं  की जाए और इस की उगाही समय रहते करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए, ताकि नगर परिषद के आय के साधन बढ़ सकें और विकास कार्य सुचारू रूप से चल सकंे। उन्होंने सभी पार्षदों को अपने-अपने वार्डों में सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने और लोगों को इसके प्रति जागरूक करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि डंपिंग साइट पर कूड़े-कचरे का सही ढ़ंग से निष्पादन किया जाए। उन्होंने पुल का उदघाटन करने से पहले डंपिंग साइट की गंदगी को तीन दिनों के भीतर साफ सुथरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शुकदेव वाटिका शोपिंग कांप्लैक्स व पार्किंग का निर्माण किया जाएगा, जिसके लिए उन्होंने अधिकारियों को डीपीआर जल्द से जल्द तैयार करने के निर्देश दिए। इसके अलावा ईओ की आवासीय भवन के अनसेफ भवन को नए सिरे से बनाने व सेफ भवन के उपर नई भवन करने, नगर परिषद कार्यालय व रैन वसेरा भवन की छत पर सोलर पैनल स्थापित करने, नगर परिषद के पाकांर्े की देख-रेख की व्यवस्था को आउटसोर्स करने के लिए अलग से टेंडर लगाने, नगर परिषद के सीमेंट स्टोर के लिए पर्याप्त जगह की व्यवस्था न होने की सूरत में सामुदायिक भवन को वैकल्पिक तौर पर स्टोर के रूप में इस्तेमाल मंे लाने का निर्णय लिया गया। बैठक में ईओ अशोक शर्मा, जेई राजेंद्र गुलेरिया, डीएम बलवीर सोनी, नप अध्यक्ष पूनम शर्मा, उपप्रधान दीपक सेन, पार्षदों में अजय शर्मा व रक्षा को छोड़ कर अन्य सभी पार्षदगण मौजूद रहे।

You might also like