नेशनल ग्रैपलिंग में छाया हिमाचल

ऋषिकेश में आयोजित टूर्नामेंट में खिलाडि़यों ने लगाई मेडल्स की झड़ी

जवाली -भारतीय ग्रैपलिंग महासंघ द्वारा उत्तराखंड के ऋषिकेश में 12वीं राष्ट्रीय ग्रैपलिंग प्रतियोगिता  का आयोजन किया गया, जिसमें हिमाचल प्रदेश ग्रैपलिंग संघ की तरफ  से 22 सदस्य टीम ने भाग लिया। हिमाचल प्रदेश की टीम के खिलाडि़यों ने अपना बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सात स्वर्ण, पांच सिल्वर व पांच कांस्य पदकों पर जीत हासिल की। इसमें सीनियर पुरुष वर्ग के 66 किलोग्राम भार वर्ग में जलग्रां टब्बा के गौरव ने नो गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक,  92 किलोग्राम भार वर्ग में बढेडा के लखविंद्र सिंह ने नो गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक,  52 किलोग्राम भार वर्ग में मतलाहड़ के अर्जुन ने गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक व नो गी प्रतियोगिता में कांस्य पदक,  58 किलोग्राम भार वर्ग में चलवाड़ा के अभिलाष कुमार ने नो गी व गी प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता। वहीं, सीनियर महिला वर्ग के 49 किलोग्राम भार वर्ग की नो गी प्रतियोगिता में मैरा की काजल देवी ने स्वर्ण पदक व गी प्रतियोगिता में रजत पदक,  49 किलोग्राम भार वर्ग की नो गी प्रतियोगिता में टीयुकर गांव की रीमा ने गी व नो गी प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता। यूथ वर्ग के 45 किलोग्राम भार वर्ग में कांगड़ा के भनेई की प्रियंका ने नो गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक व गी प्रतियोगिता में रजत पदक हासिल किया। 45 किलोग्राम भार वर्ग में हरसर की दीक्षा ने गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक व नो गी प्रतियोगिता में रजत पदक हासिल किया। 62 किलोग्राम भार वर्ग में हरसर की नीफा बीबी ने नो गी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक व गी प्रतियोगिता में रजत पदक हासिल किया। 62 किलोग्राम भार वर्ग में जसूर की शिवानी शर्मा ने नो गी प्रतियोगिता में रजत पदक हासिल किया। हिमाचल प्रदेश ग्रैपलिंग संघ के महासचिव अमित कुमार चौधरी ने बताया की उक्त सभी स्वर्ण पदक विजेता यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग की वर्ल्ड रेसलिंग कमेटी द्वारा आयोजित सभी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे। हिमाचल प्रदेश ग्रैपलिंग संघ के अध्यक्ष मलकीयत सिंह, उपाध्यक्ष बलबीर सिंह, महासचिव अमित कुमार चौधरी, कोषाध्यक्ष राजिंद्र सिंह, राष्ट्रीय कोच अविनाश कुमार, रतीक्ष चौधरी, अंकित पांबड़ा, राष्ट्रीय रैफरी रानी देवी व शबनम समेत सभी खिलाडि़यों को जीत की बधाई दी  । 

You might also like