नौवें दिन मिला लापता विमान का मलबा

एमआई-17 को अरुणाचल के सियांग जिला में दिखे अवशेष

ईटानगर – भारतीय वायुसेना के लापता विमान एएन-32 का मलबा अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिला में दिखाई दिया है। भारतीय वायुसेना ने इसकी पुष्टि की है। 13 लोगों के साथ एएन-32 ने तीन जून को असम के एयरबेस से उड़ान भरी थी और उससे आखिरी संपर्क उसी दिन करीब एक बजे हुआ था। इससे पहले अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिला के एक गांव में भारतीय वायुसेना के चौपर एमआई-17 को विमान के मलबे जैसा कुछ दिखाई दिया था। आईएएफ ने अरुणाचल प्रदेश पुलिस को इस बारे में आगाह किया था। एयरक्राफ्ट के लापता होने के बाद से ही भारतीय वायुसेना का चौपर एमआई-17 इलाके की छानबीन में लगा हुआ था। मंगलवार दोपहर सियांग जिले के गेट गांव के पास एमआई 17 को विमान के मलबे जैसा कुछ दिखाई दिया। इसके बाद वायुसेना ने इसे लापता विमान एएन 32 का मलबा बताया। इंडियन एयरफोर्स ने ट्वीट किया है कि लापता एएन-32 विमान का मलबा लिपो से 16 किलोमीटर दूर दिखा है। एमआई-17 हेलिकाप्टर को सर्च ऑपरेशन के दौरान करीब 12 हजार फुट की ऊंचाई पर टाटो के उत्तर-पूर्व में यह मलबा दिखाई दिया है। मलबा मिलने के बाद अब एयरफोर्स ग्राउंड टीम के जरिए उसमें सवार लोगों की स्थिति के बारे में जानकारी जुटाएगी। वायुसेना ने ग्राउंड टीम को विमान का मलबा मिलने के बाद उसमें सवार रहे 13 लोगों के बारे में पता लगाने का निर्देश दिया है।

You might also like