न हेल्मेट …न जेब में पैसे… पुलिस चालान करे तो कैसे

सुजानपुर—न सिर पर हेल्मेट और न जेब में पैसे, ऐसे में अधिकारी करें तो क्या करे। ऐसा ही मंजर मंगलवार को उपमंडल सुजानपुर के ब्यास पुल पर देखने को मिला, जब क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी आरटीओ हमीरपुर ने नाकाबंदी कर वाहन चालकों के दस्तावेज निरीक्षण का कार्य शुरू किया, तो दोपहिया वाहन चालक जिन्हें युवा चला रहे थे उन्हें रोका गया, तो न तो उनके पास हेलमेट था और न ही उनकी जेब में पैसे, उनसे जब हेल्मेट नहीं पहनने के लिए पूछा गया, तो युवाओं ने रोना शुरू कर दिया। उन्हांेने यहां तक कह दिया कि साहब आप हमारा चालान मत करना और न ही हमारे घर में इसकी सूचना देना, अगर आप ऐसा करोगे, तो परिजन हमारे साथ अच्छा नहीं करेंगे। बताते चलें कि सुजानपुर ब्यास पुल पर क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ने वाहन दस्तावेज जांच का कार्य शुरू किया था। ओवरलोडिंग वाहन, फिटनेस, इंश्योरेंस  अन्य कागजात एवं वाहन चालक की स्थिति क्या है, तमाम दस्तावेज जांचे जा रहे हंै। इन्हीं का निरीक्षण करने के लिए जब क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ने सुजानपुर की सीमा पर कार्य शुरू किया, तो बड़े वाहनांे मंे बसें, टेंपो ट्रैवलर, जीप इत्यादि को रोका गया। तमाम वाहन ओवरलोडिंग तो नहीं पाए गए, लेकिन दस्तावेज एवं फिटनेस अधिकतर वाहनों में नहीं थी। इसके साथ ही समयसारणी पर अधिकांश बसें नहीं चल रही थीं, नियमों की अवहेलना करने वाले ऐसे करीब दो दर्जन वाहन चालान की गिरफ्त में आए और उनके चालान किए गए। इस दौरान दोपहिया वाहन चालक भी रोके गए।

You might also like