पति से कहासुनी पर पत्नी ने लगाया फंदा

डलहौजी—उपमंडल की बाथरी पंचायत में एक महिला ने पति से हुई कहासुनी के बाद मायके में पंखे से दुपट्टे का फंदा लगाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। मृतका की पहचान रजिया सुल्ताना पत्नी विनोद कुमार वासी बैकुंठ नगर बनीखेत के तौर पर की गई है। पुलिस ने महिला के शव का सिविल अस्पताल डलहौजी में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने मृतका की माता की शिकायत पर आरोपी पति के लिए प्रताडि़त कर आत्महत्या हेतु उकसाने को लेकर मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई आरंभ कर दी है। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार करने के लिए टीम रवाना कर दी है। पुलिस का कहना है कि जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर हवालात में बंद कर दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार बाथरी गांव की रजिया सुल्ताना ने बनीखेत के बैकुंठ नगर के विनोद कुमार के साथ अंतरजातीय विवाह किया था और पिछले दो माह से अपने मायके में रह रही थी। जहां शुक्रवार रजिया सुल्ताना ने कमरे के साथ के स्टोर में फंदा लगा लिया। रजिया सुल्ताना के इस आत्मघाती कदम उठाने का पता शनिवार सवेरे चला जब काफी देर तक कमरे से बाहर न निकलने पर उसकी माता सलीमा उसे उठाने गई। मगर सलीमा ने रजिया सुल्ताना को कमरे से गायब पाया। इसी बीच जब सलीमा ने कमरे के साथ लगते स्टोर में झांका तो रजिया सुल्ताना को फंदे से झूलता पाया। सलीमा के रजिया सुल्ताना को फंदे से लटकता देख चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर मौके पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई। इसी बीच घटना की सूचना पाते ही डीएसपी हैडक्वार्टर अजय कुमार व डलहौजी पुलिस थाना से एक टीम मौके पर पहंुच गई। पुलिस ने घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करने के बाद रजिया सुल्ताना के शव को फंदे से उताकर पोस्टमार्टम हेतु भिजवाया। इसी बीच मृतका की माता ने पुलिस को दिए बयान में बेटी की मौत के लिए दामाद को जिम्मेदार ठहराया है। सलीमा का कहना है कि शुक्रवार रात उसका दामाद विनोद आया हुआ था।  विनोद ने रजिया के साथ झगड़ा व मारपीट करी थी, जिसके बाद दोनों कमरे में सोने चले गए। सलीमा का कहना है कि सवेरे बेटी को फंदे से लटकता पाया, जबकि दामाद लापता था। पुलिस ने मृतका की माता की शिकायत में नामजद आरोपी पति विनोद कुमार के खिलाफ भादंस की धारा-306 व 498 के तहत मामला दर्ज किया है। उधर, डीएसपी हैडक्वार्टर चंबा अजय कुमार ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि डलहौजी थाना में आरोपी पति के खिलाफ  मामला दर्ज कर नियमानुसार आगामी कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

You might also like