परिवहन मजदूर संघ का मीटिंग से किनारा

नम्होल—पूर्व परिवहन मंत्री से माफियां मांगने वाले गिरोह के लोगों द्वारा बिलासपुर में भारतीय मजदूर संघ के नाम पर करवाई जा रही बैठक का विरोध शुरू हो गया है। परिवहन मजदूर संघ की बिलासपुर इकाई ने इस मीटिंग का बहिष्कार किया है। बिलासपुर इकाई संघ के पदाधिकारी प्रताप ठाकुर, सतीश नड्डा, राजकुमार, देवराज, हेमराज, सुरेंद्र ठाकुर, विवेक कुमार, जगतपाल, चमन लाल, ओम राज, विजय ठाकुर, लेखराज, सुरेश शर्मा, गीताराम, गौरव सोनी व मनोज सहित दर्जनों कर्मचारियों ने कहा कि नयनादेवी से ताल्लुक रखने वाले भाजपा के एक नेता मजदूर संघ की बैठक करवाने के लिए दबाव बनाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि परिवहन मजदूर संघ के इतिहास में आज तक कभी भी भाजपा के किसी भी वरिष्ठ नेता ने ऐसा हस्तक्षेप नहीं किया है, जिसकी शुरुआत अब की गई है। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार के कार्यकाल में जब बिलासपुर से चुन-चुनकर संघ कार्यकर्ताओं के वैचारिक भेदभाव के कारण तबादले किए जा रहे थे, तो उस समय बिलासपुर के कांग्रेस विधायक के घर जाकर मुंह मीठा करवा कर गलबहियां डाल रहे थे। उस समय उन्हें परिवहन मजदूर संघ की याद क्यों नहीं आई? संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि बिलासपुर में संघ की संगठित और निर्वाचित संस्था काम कर ही है, जिसका नेतृत्व प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर पूरे प्रदेश में कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश के परिवहन कर्मचारियों ने इस गिरोह के अवसरवादी रवैये से बहुत सबक लिए है और परिवहन कर्मचारी अब इनके झांसे में आने वाली नहीं है।

You might also like