पर्यटक…टै्रफिक आउट ऑफ कंट्रोल

गाडि़यां खड़ी करने के लिए जगह न मिलने से जाम में फंसने को मजबूर, यहां-वहां भटकने से सैलीनी मायूसकुलदीप भारद्धाज

डलहौजी-मैदानी इलाकों में गरमी की तपिश के बीच दो पल सुकुन के बिताने को लेकर पर्यटन नगरी डलहौजी में उमडी पर्यटकों की भीड से ट्रेफिक व्यवस्था बुरी तरह हांफ गई है। हालात यह है कि ट्रेफिक व्यवस्था को बेहतर रखने के लिए पुलिसिया प्रयास भी पर्यटकों की बढी आमद के आगे बौने साबित हो रहे हैं। पर्यटन नगरी डलहौजी में पार्किग स्थलों की कमी के चलते चालकों के आडे तिरछे वाहन खडे कर देने से लगने वाले ट्रेफिक जाम को हटाकर यातायात को सुचारू रखने में पुलिस कर्मियों को खूब पसीना बहाना पड रहा है।

उल्लेखनीय है कि इन दिनों पर्यटन सीजन के यौवन पर होने के चलते डलहौजी की आवोहवा में गरमी से राहत पाने के लिए पर्यटकों की भारी भीड उमड रही है। मगर शहर में पार्किग स्थलों की कमी के चलते ट्रेफिक जाम की समस्या आम बनकर रह गई है। हालांकि पुलिस विभाग ने सीजन के दौरान ट्रेफिक जाम की समस्या से निपटने के लिए वन- वे सिस्टम के अलावा पार्किग स्थल निर्धारित कर रखे हैं। मगर पर्यटकों की बढी तादाद के चलते यह तमाम व्यवस्थाएं अब नाकाफी साबित होने लगे हैं। डलहौजी- खज्जियार मार्ग पर वाहनों का लंबा जाम लगना आम बात होकर रह गई है। जिससे डलहौजी घूमने आने वाले पर्यटक भी परेशान दिख रहे हैं।

डलहौजी अपने आप में बेहद खूबसूरत

हरियाणा से आए सत्य पाल सिंह के मुताबिक पर्यटन स्थल डलहौजी अपने आप में बेहद खूबसूरत हैं। प्रकृति प्रेमियों के लिए डलहौजी घूमना एक शानदार विकल्प है। यहां पर्यटन स्थलों की कोई कमी नहीं है। यहां का मौसम, चीड़ और देवदार के ऊंचे-लंबे पेड़, हरियाली, पहाड़ और वादियां स्विट्जरलैंड का एहसास कराती हैं वहीं ग्रीष्म ऋतु में जहां मैदानी इलाके भीषण गर्मी से तप रहे हैं तो इसके उल्ट यहां का मौसम बहुत ही सुहावना है। यहां की ठंडी ताजा हवाओं में घूमकर मैं परिवार संग तरोताजा अनुभव कर रहा हूं। मगर डलहौजी में ट्रेफिक जाम के कारण होने वाले परेशानी का हल होना चाहिए।

गांधी चौक-बस स्टैंड की हालत खराब

जम्मू से आए केवल कुमार का कहना है कि यहां की प्राकृतिक सुंदरता में कोई कमी नहीं है वहीं यहां का मौसम भी शानदार है। ग्रीष्म ऋतु के लिहाज से डलहौजी बेस्ट डेस्टिनेशन है, लेकिन यहां कुछ स्थानों जैसे गांधी चौक, बस स्टैंड व खज्जियार सड़क मार्ग की स्थिति बहुत खराब है वहीं सुरक्षा के उद्देश्य से कुछ स्पोट्स पर क्त्रेश बैरिकेडस लगाने की भी जरूरत है भले ही यहां विंटर सीजन मे बर्फबारी से सडकें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं लेकिन पर्यटन स्थल होने के लिहाज से यहां सड़कों की हालत में सुधार की जरूरत है

वैकल्पिक मार्गों की तलाश करने की जरूरतकारोबारी

गजल गोयल के मुताबिक पर्यटन सीजन में वाहनों के लगातार बढ़ते दबाव से यहां यातायात जाम की समस्या एक प्रमुख समस्या है। यहां कुछ स्थानों पर यातायात व्यवस्था पूरी तरह सुगम रहे। इसके लिए वैकल्पिक मार्गों को तलाश कर उन्हें शुरू करने की जरूरत है, जिससे किसी भी नागरिक या पर्यटकों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

प्राकृतिक संुदरता की कोई कमी नहीं

स्थानीय कारोबारी सुभाष कुमार के मुताबिक डलहौजी में प्राकृतिक सुंदरता की कोई कमी नहीं है। यदि पर्यटन की दिशा में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए पर्यटन स्थलों को विकसित कर और अधिक बढ़ावा देने की जरूरत है, ताकि पर्यटकों के ठहराव को और अधिक किया जा सके।

You might also like