पांच जिंदगियां बचाने को दौड़े अल्ट्रा मैराथनर सुनील शर्मा

नाहन— शरीर को झुलसाने वाली करीब 40 डिग्री से अधिक तापमान की गर्मी के बीच देश के जाने माने अल्ट्रा मैराथनर धावक बन चुके सुनील शर्मा ने सोमवार को पांच जिंदगियां बचाने के लिए उत्तर भारत की प्रमुख शक्तिपीठ माता बालासुंदरी मंदिर परिसर से सिरमौर रन-3 का आगाज किया। पुलिस अधीक्षक सिरमौर अजय कृष्ण शर्मा ने धावक सुनील शर्मा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसमें सबसे रोचक बात यह रही कि पुलिस अधीक्षक सिरमौर स्वयं अल्ट्रा मैराथन धावक सुनील शर्मा व वीरेंद्र सिंह के साथ करीब पांच किलोमीटर तक दौड़े। सुनील शर्मा द्वारा आरंभ की गई इस चैरिटी रन के भागीदार पुलिस अधीक्षक व उनकी टीम के सदस्य भी बने। नौ जून तक चलने वाली इस चैरिटी रन के माध्यम से सुनील शर्मा दो किडनी के मरीजों के अलावा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के तीन अन्य मरीजों के लिए जिला के विभिन्न हिस्सों से धन जुटाएंगे। यह दौड़ नौ जून को नाहन के चौगान मैदान में संपन्न होगी। सुनील शर्मा का पहला पड़ाव त्रिलोकपुर से पांवटा साहिब तक का होगा। दूसरे पड़ाव में पांवटा साहिब से शिलाई तक का सफर तय किया जाएगा। पांच जून को सुनील शर्मा शिलाई से हरिपुरधार के लिए रवाना होंगे तथा छह जून को हरिपुरधार से राजगढ़, सात जून को राजगढ़ से सोलन तक का सफर तय किया जाएगा। आठ जून को सुनील शर्मा पुनः सोलन से सिरमौर की सड़कों पर दौड़ेंगे तथा नैनाटिक्कर तक का सफर तय किया जाएगा। अंतिम दिन नौ जून को नैनाटिक्कर से सुनील शर्मा नाहन पहुंचेंगे। इस दौरान करीब 500 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। चैरिट रन-3 को हरी झंडी दिखाने केे अवसर पर पुलिस अधीक्षक सिरमौर अजय कृष्ण शर्मा ने धावक सुनील शर्मा के समाज के प्रति सोच की सराहना करते हुए कहा कि सुनील की इस चैरिटी रन में आम लोग भी आगे आ रहे हैं।

इन मरीजों के लिए किया जा रहा चैरिटी रन

अल्ट्रा मैराथन धावक सुनील शर्मा द्वारा जिन पांच मरीजों के लिए चैरिटी रन की जा रही है उनमें संगड़ाह के मंडोली की 14 वर्षीय उर्मिला की दोनों किडनी खराब है। मंडी से 29 वर्षीय शशी कुमारी भी किडनी की मरीज है। तीन अन्य मरीजों में कोड़गा सखोली के सुरेंद्र व संदीप तथा सतौन के दुनी चंद की आर्थिक मदद के लिए सुनील शर्मा तीसरी बार जिला में पसीना बहा रहे हैं। इससे पूर्व भी दो चैरिटी रन आयोजित हो चुकी है।

You might also like