पांच दिन में पानी की समस्या करो दूर

घुमारवीं—पानी की किल्लत से परेशान रोहिण पंचायत के लोग बिफर गए हैं। पानी की समस्या को लेकर पंचायत प्रधान व उपप्रधान की अगवाई में प्रतिनिधिमंडल आईपीएच के एक्सईएन से मिला। प्रतिनिधिमंडल ने शिकायत पत्र सौंप कर दो टूक चेताया कि यदि पांच दिनों के भीतर समस्या का समाधान नहीं हुआ, तो लोग सड़कों पर उतरने को मजबूर होंगे। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि रोहिण खास, जोल, अंगी, जदराण, सतेहू व कुराल सहित अन्य गांवों के लोगों ने कहा कि विभागीय अनदेखी के कारण पानी की सप्लाई सुचारू रूप से नहीं मिल रही है। गांव यातर को कोलडैम के बने टैंक से ग्रेवटी द्वारा जोड़ दिया गया है, लेकिन जोल, मुलगवाड़ी, सतेहू व रोहिणी खास को ग्रेवटी से नहीं जोड़ा गया है, जबकि इन गांवों में भी ग्रेवटी से पानी जा सकता है। इसको लेकर पंचायत प्रतिधिनियों व लोगों ने कई बार विभागीय कर्मियों को बताया, लेकिन समस्या का कोई हल नहीं निकला। रोहिण खास, सतेहू व जोल गांव के करीब 70 परिवारों को नल नहीं लगाया गया है। कोलडैम के पानी को जोल में बनाए गए टैंक को चालू नहीं किया जा रहा है। यदि इस टैंक को चालू कर दिया जाए, तो जोल, मुलगवाड़ी, सतेहू व रोहिणी खास की पानी की समस्या हल हो सकती है। हरिजन बस्ती रोहिण खास के लगभग 10-12 परिवारों को विभाग ने लाइन डाली है, लेकिन उसको डेढ़ साल से चालू नहीं किया गया है। झंगी गांव में हैंडपंप सूख गया है, जिसके कारण यहां पर लोगों को पानी की दिक्कत अधिक बढ़ गई है। यातर गांव को कोलडैम  स्कीम से जोड़ा जाए। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि फोरलेन निर्माण कार्य से जदराण गांव की पाइप लाइनें क्षतिग्रस्त है, जिसकी मरम्मत करवाकर लोगों को राहत दी जाए।  इस मौके पर पंचायत प्रधान रमेश ठाकुर, उपप्रधान देवराज कौंडल, बृज लाल, निक्का राम, हरि राम, वीरेंद्र कुमार, शंकर सिंह, होशियार सिंह, बबली देवी, मीना देवी, सुनीता कुमारी, लीला देवी, पिंकी देवी, चिंता देवी, हरदेई, उर्मिला, शीला देवी, आशा, संत राम, मनोरमा, रचना देवी, विमला देवी, सुरेश चंदेल, किरपू राम, दुनीं चंद, रीना देवी आदि मौजूद रहे।

You might also like