पिपलू मेला… प्रदर्शनी में महाभीड़

बंगाणा—तीन दिवसीय जिला स्तरीय ऐतिहासिक पिपलू मेला में विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई विकासात्मक प्रदर्शनियां आकर्षण का प्रमुख केंद्र रहीं। इन प्रदर्शनियों के माध्यम से जहां लोगों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त हुई तो वहीं कृषि औजार, प्राकृतिक खेती द्वारा तैयार उत्पादों के साथ-साथ सरकार की आयुष्मान भारत, हिम केयर जैसी स्वास्थ्य बीमा योजनाओं बारे भी जानकारी प्राप्त हुई। ग्र्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने इन प्रदर्शनियों का शुभारंभ किया था। ग्रामीण विकास विभाग की प्रदर्शनी में जहां लोगों को विभिन्न स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार उत्पाद जैसे जैम, चटनी, अचार, मुरब्बा, शहद, जोत बत्ती, आर्टिफिशियल ज्वेलरी, हाथों द्वारा तैयार थैले इत्यादि उत्पाद खरीदनों को मिले तो वहीं कृषि विभाग की प्रदर्शनी में किसानों को गेहूं, घास इत्यादि काटने वाले ब्रास कटर, लकड़ी काटने के लिए चेन शॉ, खेती के लिए पावर वीडर, सोलर स्प्रे पंप, सुभाष पालेकर प्राकृतिक खेती से तैयार विभिन्न उत्पादों इत्यादि की जानकारी हासिल हुई। इसी तरह उद्यान विभाग की प्रदर्शनी में सरकार की विभिन्न योजनाओं के साथ-साथ फल, फूल एवं शहद बारे किसानों को जानकारी प्राप्त हुई। वन विभाग की प्रदर्शनी में बैबूना प्रोजेक्ट के तहत बांस से तैयार विभिन्न उत्पादों जैसे ट्रे, फोल्डिंग टेबल, फ्रूट बास्केट, टेबल लैंप, हैंगर इत्यादि की न केवल जानकारी हासिल हुई बल्कि इन उत्पादों की खरीदारी भी की।

You might also like