पिपलू मेले से गंदगी का सफाया

बंगाणा—जिला स्तरीय ऐतिहासिक पिपलू मेले में लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए विशेष प्रयास किए गए। मेला आयोजन स्थल पर मेला कमेटी की ओर से जगह-जगह कूड़ेदान लगाए गए थे और लोगों को कूड़ा उन्हीं कूड़ेदान में डालने के लिए प्रेरित भी किया। विभिन्न स्टॉल के बाहर विशेष तौर पर खाने-पीने के स्टॉल पर कूड़ेदान की व्यवस्था की गई थी और इस बारे में दुकानदारों को भी विशेष हिदायतें दी गई। मेला कमेटी के इन प्रयासों के सकारात्मक परिणाम भी नजर आए और मेले के दौरान साफ सफाई की व्यवस्था बनी रही। इस बारे में एसडीएम बंगामा संजीव कुमार ने बताया कि मेला आयोजन समिति के माध्यम से ग्र्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर के दिशा-निर्देशों के अनुसार स्वच्छता को बनाए रखने के लिए विशेष प्रबंध किए गए थे। इस बारे में लोगों और दुकानदारों को जागरूक किया गया। जिसकी वजह से 70 प्रतिशत कूड़ा कूड़ेदान में ही डाला गया। 

लोगों ने सराहे स्वच्छता के प्रयास

मेले में दर्शनार्थ पहुंचे श्रद्धालुओं ने भी मेला समिति द्वारा स्वच्छता बनाए रखने के प्रयासों को सराहा। धनेटा से आए गुलशन ने बताया कि स्वच्छता के लिए जगह-जगह कूड़ेदान लगाए गए हैं।

क्या कहते हैं दुकानदार

पिपलू मेले में जालंधर से दुकान लगाने आए संतोष कुमार गुजराती तथा भोटा से आए हलवाई राजकुमार ने बताया कि मेले समिति की ओर से उन्हें कूड़ेदान लगवाए गए थे और स्वच्छता बनाए रखने के निर्देश दिए गए थे। चंडीगढ़ से दुकान लगाए गए परमिंदर, पूजा तथा जोगिंद्र ने भी मेला कमेटी के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इससे उन्हें साफ-सफाई में काफी सहूलियत मिली। इसी तरह रंगस से आए रमेश ने बताया कि मेले में स्वच्छता का एक सकारात्मक संदेश गया है और वह आगे भी जीवन में स्वच्छता को अपनाएंगे।

You might also like