पीडब्ल्यूडी के दो एसई बने चीफ इंजीनियर

शिमला – लोक निर्माण विभाग में दो एसई को चीफ इंजीनियर के पद पर पदोन्नत किया गया है। विभागीय पदोन्नति कमेटी की सिफारिशों के तहत यह प्रोमोशन हुई है, जिसमें ई. जगरूप सिंह गुलेरिया व ई. प्रीतम चंद को चीफ इंजीनियर बनाया गया है, वहीं आईपीएच विभाग में 11 सहायक अभियंता एग्जीक्यूटिव इंजीनियर बनाए गए हैं। पीडब्ल्यूडी में प्रोमोट हुए अफसरों में ई. जगरूप सिंह गुलेरिया को चीफ इंजीनियर हमीरपुर जोन की जिम्मेदारी दी गई है, वहीं प्रीतम चंद को चीफ इंजीनियर पीएमजीएसवाई शिमला में तैनाती मिली है। इनका वेतनमान 37400-67000 का होगा, जिसके अलावा 10 हजार ग्रेड-पे दी जाएगी। आईपीएच में प्रोमोट हुए अफसरों में राकेश चंद ठाकुर को आईपीएच डीवीजन तिस्सा के तहत भंजारू, प्रीतम चंद को चीफ इंजीनियर जोन धर्मशाला, प्रदीप कुमार को इंदौरा में रणजीत चौधरी की जगह, प्रवीण कुमार को सर्किल शिमला, बोधबर्धन को जुब्बल, जगबीर सिंह को स्टोर परचेज शिमला, संजय कुमार को चीफ इंजीनियर धर्मशाला कार्यालय, आशीष राणा को रोहडू से नाहन, रणजीत चौधरी को मतयाणा, संदीप चौधरी को जसवां परागपुर तथा विवेक हाजरी को करसोग में खाली पद पर भेजा गया है। इन अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर अपने नए पद व नए स्थान पर ज्वाइनिंग देने के लिए कहा गया है।

कृषि विभाग में तबादले

कृषि विभाग में सबजेक्ट मैटर स्पेशियलिस्ट को उपनिदेशकों के पदों पर भेजा गया है। इनको किसी तरह का वित्तीय लाभ नहीं मिलेगा। इसमें बाम देव शर्मा जाइका मंडी, प्रकाश चंद सैनी को सोलन, राजेश चंद सूद को नूरपुर से पालमपुर, किशोर चंद आजाद को हमीरपुर, खूब राम को गोहर से बिलासपुर, जीत सिंह को बैजनाथ से  मंडी और टेकचंद को चंबा से केलांग भेजा गया है।  कुलदीप पटियाल को मंडी से डिप्टी डायरेक्टर एग्रीकल्चर बिलासपुर, जगदीश चंद को नाहन, राजेश कौशिक को आत्मा प्रोजेक्ट नाहन से उपनिदेशक नाहन के पद पर भेजा गया है।

अनिल खाची, मनोजको अतिरिक्त दायित्व

शिमला— मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुंडू के अवकाश पर जाने के चलते उनके विभागों के अतिरिक्त दायित्व दिए गए हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त, योजना, लोक निर्माण अनिल कुमार खाची को आवासीय आयुक्त दिल्ली का अतिरिक्त जिम्मा दिया गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह, उद्योग एवं तकनीकी शिक्षा मनोज कुमार को विजीलेंस का अतिरिक्त दायित्व सौंपा गया है।

You might also like