पुलवामा में आईईडी ब्लास्ट से उड़ाया सेना का वाहन; नौ जवान घायल, तीन की हालत गंभीर

 राष्ट्रीय रायफल्स के काफिले पर आतंकी हमला, समूचे दक्षिण कश्मीर में हाई अलर्ट जारी

श्रीनगर -जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिला में आतंकियों ने सोमवार को एक बार फिर सुरक्षाबलों के काफिले को निशाना बनाते सेना की राष्ट्रीय रायफल्स के काफिले को आईईडी ब्लास्ट के जरिए उड़ाने का प्रयास किया। इस हमले में सेना के नौ जवान घायल हो गए, जिनमें से तीन की हालत गंभीर है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह हमला पुलवामा के अरिहल गांव में अरिहल-लस्सीपुरा रोड पर हुआ। यह हमला तब हुआ, जब सेना की बख्तरबंद गाड़ी यहां से गुजर रही थी। हमला इतना भयंकर था कि सेना के वाहन के परखचे उड़ गए। पुलवामा के अरिहल गांव में हुए इस हमले के बाद समूचे दक्षिण कश्मीर में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार शाम सेना की 44 राष्ट्रीय रायफल्स का एक काफिला पुलवामा के अरिहल गांव में स्थित ईदगाह के पास से गुजर रहा था। इसी दौरान आईईडी प्लांट कर आतंकियों ने काफिले को उड़ाने के लिए ब्लास्ट किया। इस वारदात में सेना का एक कैस्पर व्हीकल क्षतिग्रस्त हो गया। धमाके के बाद इलाके में अफरा-तफरी मच गई। इस वारदात के बाद अन्य सुरक्षाबलों को भी मौके पर बुलाया गया। वारदात के बाद एजेंसियों ने दक्षिण कश्मीर में हाई अलर्ट घोषित करते हुए अरिहल गांव की सख्त घेराबंदी की और इलाके में बड़ा तलाशी अभियान शुरू किया गया। इस कार्रवाई में सेना, सीआरपीएफ, जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप को लगाया गया।

फरवरी में भी हुआ था हमला

पुलवामा में ही 14 फरवरी, 2019 को आतंकी सीआरपीएफ के एक काफिले को उड़ाने की साजिश में कामयाब हो चुके हैं। 14 फरवरी की इस घटना में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले में शामिल वाहन को उड़ा दिया था। इस कायराना हमले में 40 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए थे। इस हमले के बाद जम्मू-कश्मीर के बनिहाल में भी सीआरपीएफ के काफिले को कार बम से उड़ाने की साजिश रची गई थी, हालांकि आतंकी इस हमले में भी सफल नहीं हो सके थे।

You might also like