प्रचंड गर्मी, धू-धू कर जल रहे जंगल

रिवालसर —बढ़ती गर्मी की तपिश में हल्की सी चिंगारी जंगलों में कहर ढा रही है, जिस कारण जंगल धू-धू कर जल रहे हैं और लाखों-करोड़ों रुपए की वन संपदा राख हो रही है। ऐसा ही आग का कहर सरकाघाट क्षेत्र की टिकर पंचायत के खिल गांव की सीमा के साथ भद्रवाड़ बीट के अंतर्गत ठाठल जंगल में देखने को मिला, जब तक जंगल में लगी आग पर काबू पाया जाता है, तब तक लगभग पूरे जंगल को आग ने अपनी चपेट में ले लिया था। आग लगने की इस घटना से लाखों करोड़ों रुपए की वन संपदा को भी नुकसान पहुंचा है। हालांकि वन विभाग का दावा है कि आग लगने से वन संपदा को कम नुकसान पहुंचा है और आग पर समय रहते काबू पा लिया था। इससे लाखों रुपए की वन संपदा को जलने से बचा लिया है। आग के कारण वन्य जीवों की जान भी गई है और आग उन पर आफत बन कर बरसी है।  जानकारी के अनुसार भद्रवाड़ बीट के अंतर्गत ठाठल जंगल में गत बुधवार को अचानक आग भड़क गई। आग ने इतना भयानक रूप धारण कर लिया था कि आसपास के क्षेत्रों का वातावरण गर्म हो गया। आग की लपटों में जंगल धू-धू कर जला। आग लगने की सूचना मिलते ही वन विभाग के कर्मियों व स्थानीय जनता ने जंगल में आग पर काबू पाने का भरसक प्रयासों के बाबजूद जंगल के बड़े हिस्से को जलने से नहीं बचा सके। हालांकि अब आग पर काबू पा लिया है। वन परिक्षेत्र अधिकारी सरकाघाट राजीव शर्मा का कहना कि आग लगने के कारणों का पता लगया जा रहा है और इस संबंध आज ही थाना सरकाघाट में मामला दर्ज करवाया जा रहा है।

You might also like