प्रदेश में लगेंगे दो हजार कैमरे

पुलिस विभाग ने तैयार किया प्लान, शक्तिपीठों पर विशेष नजर

शिमला – प्रदेश के प्रमुख स्थलों पर राज्य पुलिस करीब तीन हजार सीसीटीवी कैमरे लगाएगी।  हिमाचल पुलिस ने इसके लिए रूप रेखा तैयार कर दी है। विभाग अपने स्तर पर और जन सहयोग से सीसीटीवी कैमरे लगाएगा। इसके लिए औद्योगिकी ईकाइयों के प्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाएगा। पुलिस विभाग मुख्य रूप से ऐसे क्षेत्रों में सीसीटीवी कैमरे लगाना चाह रही है, जहां अपराधिक मामले ज्यादा प्रकाश में आते हैं। जानकारी के मुताबिक प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर अभी एक हजार से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं।  इनमें माध्यम से पुलिस कई केसों को सुलझाने में भी कामयाब रही है। जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगने से पुलिस विभाग को मैन पॉवर की दिक्कतें भी नहीं आएंगी। पुलिस विभाग एंट्री प्वाइंट और बैरियरों पर हाई रेजॉल्यूशन वाले कैमरे लगाएगी, ताकि हर गतिविधियों पर कड़ी नजर रखे जा सके। कुछ स्थानों पर यह कैमरे लगा दिए गए है। पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश की शक्तितपीठों से लगते क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। वहीं दूसरी तरफ हिमाचल में अब शराब पीकर वाहन चलाने वाले जेल जाएंगे। प्रदेश पुलिस ने ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए पूरा प्रारूप तैयार कर दिया है। इसके तहत उनके खिलाफ मजबूती से अदालत में पक्ष रखा जाएगा और उन्हें जेल की हवा खिलाई जाएगी। प्रदेश में लगातार सामने आते सड़क हादसों को देख प्रदेश पुलिस विभाग ने इस संबंध में सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को व्यापक दिशा-निर्देश जारी किए हैं। कानून में पहले ही इस संबंध में कड़े प्रावधान है। इसके तहत जिला सिरमौर अब तक 300 से अधिक शराबी वाहन चालकों को जेल की हवा भी खिला चुकी है। 

You might also like