प्रियंका-साहिल हिमाचल की आवाज सीजन सात के विजेता

धर्मशाला –‘दिव्य हिमा चल मीडिया ग्रुप’ के लोकप्रिय इवेंट  ‘हिमाचल की आवाज-7’ के ग्रैंड फिनाले में सोलन की प्रियंका और ऊना के साहिल विजेता रहे। प्रियंका ने अपनी सुरीली आवाज से सीनियर वर्ग की ट्रॉफी पर कब्जा जमाया, वहीं, साहिल ने जूनियर वर्ग में खिताब जीता। पीजी कालेज धर्मशाला के ऑडिटोरियम में हुए ग्रैंड फिनाले में सुरताल की ऐसी जंग छिड़ी कि हर कोई मंत्रमुग्ध हो गया। सीनियर वर्ग में सोलन की प्रियंका के बाद शिमला के इशांत दूसरे स्थान पर रहे, कांगड़ा के अभिमन्यु ने अपनी बेहतरीन गायकी के दम पर तीसरा नंबर कब्जाया। जूनियर वर्ग के प्रतिभागियों में ऊना के साहिल के बाद सोलन की रितिका दूसरे नंबर पर रहीं। वहीं, हमीरपुर की गरिमा ने तीसरा स्थान हासिल किया। हिमाचल की आवाज सीजन सात के मुख्य अतिथि के रूप में जिला एवं सत्र न्यायाधीश कांगड़ा जेके शर्मा ने शिरकत की, जबकि उपायुक्त कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। योगेश जसवाल जज लेबर कोर्ट, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश पारस डोगरा, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कृष्ण कुमार, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश रंजीत सिंह ठाकुर, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी यजुविंद्र सिंह, सचिव डीएलएस, कम अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी अमित मंडियाल, अतिरिक्त उपायुक्त राघव शर्मा, एडीएम मस्तराम भारद्वाज, डीआरडीए के जिला परियोजना अधिकारी मुनीष शर्मा, होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विनी वांवा विशेष रूप से उपस्थित रहे। इसके अलावा जिला कांगड़ा बार एसोसिएशन धर्मशाला के भी दर्जनों अधिवक्ताओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। संगीत गुरु प्रो. परम हंस आहुजा, डा. मदन झालटा और सेलिब्रिटी जज हंसराज रघुवंशी ने ग्रैंड फिनाले में 27 प्रतिभागियों की प्रतिभा को परखा और विजेता का ऐलान किया। सेमीफाइनल में कड़े परिश्रम और निर्णायक मंडल की कसौटी पर खरे उतरने के बाद प्रदेश भर के 27 प्रतिभागी हिमाचल की आवाज बनने को धर्मशाला पहुंचे थे। निर्णायक मंडल को भी फाइनल राउंड में प्रतिभागियों को परखने में काफी कशमकश का सामना करना पड़ा। हिमाचल की आवाज के ग्रैंड फिनाले में प्रतिभागियों को तीन राउंड की कड़ी परीक्षा से गुजरना पड़ा, जिसमें पहले राउंड में वर्ष 2000 के बाद के नए गीत गाने की परीक्षा थी, जबकि दूसरे राउंड में पहाड़ी गीत और तीसरे राउंड में पुराने यानी वर्ष 2000 से पहले के गीतों की प्रस्तुतियां हुई, जिसके आधार पर ही हिमाचल की आवाज सीजन-सात का निर्णय हुआ।

सीनियर कैटेगरी

1 सोलन की प्रियंका

2 शिमला के इशांत

3 कांगड़ा के अभिमन्यु

जूनियर कैटेगरी

1 ऊना के साहिल

2 सोलन की रितिका

3 हमीरपुर की गरिमा

You might also like