प्रेम लाल ने हल्दी की खेती से चमकाई तकदीर

 घुमारवीं—उपमंडल घुमारवीं की कोठी पंचायत के अंतर्गत गांव न्यूनखस फयोड़ी के पूर्व उपप्रधान प्रेमलाल ने प्रगति नामक हल्दी के बीज की खेती कर 20 से ज्यादा किसानों को हल्दी का बीज दे चुके हैं। उन्होंने बताया कि वे यह बीज कांगड़ा जिला के ज्वालाजी के सेवानिवृत्त कर्नल पीसी शर्मा से लाए थे। कर्नल इस बीज को आंध्र प्रदेश से लाए थे। प्रेम लाल ने बताया कि उन्होंने उन्हें यह बीज बहुत अच्छा लगा और वे पिछले साल कर्नल से 80 किलो बीज को लाए थे। प्रेमलाल ने बताया कि उन्होंने अपनी भूमि पर इस बीज को बोया तथा इससे उन्हें सात क्विंटल हल्दी प्राप्त हुई। उन्होंने बताया कि इस हल्दी की खासियत यह है कि पौधा 24 इंच से लेकर 30 इंच तक ही होता है। जबकि आम हल्दी के पौधे की लंबाई तीन से लेकर चार फु ट तक हो जाती है तथा इस हल्दी में 5.1 गुण पाए जाते हैं। जबकि आम हल्दी में 1.5 गुण पाए जाते हैं। उन्होंने बताया कि हल्दी के पौधे को कोई भी बीमारी नहीं लगती है और न ही कोई आवारा व जंगली जानवर इसे नुकसान पहुंचाते है। उन्होंने बताया कि वह अगले साल हल्दी के साथ-साथ मीठी सौंफ की फसल तैयार कर किसानों को देंगे। उन्होंने बताया कि उनके पास एक किस्म के आलू के बीज भी किसानों में देना चाहते हैं। इस आलू का नाम उन्होंने आसमानी आलू रखा है। आलू की खासियत यह है कि इसका बीज किसी पौधे के नीचे लगा कर इसकी बेल 30 से 40 फु ट तक लंबी होती है तथा उस बेल पर आलू निकलते हैं। जोकि खाने में आम आलू से चार गुना ज्यादा स्वादिष्ट होते हैं। उन्होंने कहा कि आजकल पढ़े-लिखे युवा बेरोजगार हैं और वे प्राइवेट कंपनियों में दस से 12 घंटे तक काम कर 5000 से 7000 रुपए प्रति महीना वेतन लेते हैं। उन्होंने कहा कि अगर बेरोजगार युवा हल्दी की खेती करें तो घर बैठे ही मालामाल हो सकते हैं। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि अगर किसी को हल्दी का बीज चाहिए तो वे उनसे 7831011406 नंबर पर संपर्क कर सकते हैं तथा हल्दी की खेती करके खूब पैसा कमा सकते हैं।

You might also like