फोन उठाना शान के खिलाफ!

भुंतर-प्रदेश के परिवहन मंत्री के गृह जिला कुल्लू में एचआरटीसी के बाबू फोन नहीं उठाते हैं। परिवहन निगम ने पूछताछ हेतु सवारियों के लिए जो संपर्क नंबर जारी कर रखे हैं उनकी घंटिया तो जरूर घनघनाती है लेकिन बाबूओं के पास उसे रिसीव कर सवारियों से बात करने का समय नहीं है। और तो और सवारियों की परेशानी का आलम यह कि बसों में सुविधा के लिए निगम ने जो संपर्क नंबर बसों में क्षेत्रिय प्रबंधक का लिख रखा है उस पर भी बात करने के लिए कई दिन या सप्ताह तक लग जाते हैं। अंतरराष्ट्रीय पर्यटन नगरी कुल्लू- मनाली में इन दिनों आवाजाही चरम पर है। ऐसे में बसों की पूछताछ के लिए एचआरटीसी की चरमराती सुविधा सवारियों के पसीने छुड़ा रही है और अब सवारियों और कुछ सामाजिक संगठनों ने निगम को साफ-साफ  अल्टीमेटम जारी किया है कि अगर इस प्रकार की लापरवाही से बाज नहीं आए तो इसकी शिकायत प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री से की जाएगी। कुछ सवारियों ने तो सीधे आरोप ये तक लगाए हैं कि घंटों की मेहनत के बाद जब क्षेत्रिय प्रबंधक महोदय फोन उठाते हैं तो फोन करने वालों पर ही भड़क जाते हैं। बता दें कि निगम ने बसों की पूछताछ संबंधित जानकारी के लिए कुल्लू में 01902-222728 नंबर जारी कर रखा है लेकिन इन फोन को रिसीव करने से निगम के बाबू घबरा जाते हैं। बताते चलें कि पर्यटन नगरी होने के कारण व भारी भरकम जाम के चलते वोल्वो या अन्य बसों के लिए बाहरी स्थानों से आने वाले सैलानियों को दूरभाष से जानकारी की आवश्यकता महसूस होती है लेकिन निगम का रवैया सवारियों पर भारी पड़ रहा है। सोमवार को चंडीगढ़ जाने वाले कुछ यात्रियों ने बताया कि उन्होंने बस की बुकिंग तो करवाई थी लेकिन बस जाम में फंसने के कारण उन्हें चिंता सता रही थी, लेकिन फोन करने पर कोई रिसीव नहीं कर रहा था। सवाल ऐसे में यह है कि परिवहन मंत्री के गृह जिला में ही ऐसे हालात है तो अन्य स्थानों पर निगम की दुर्दशा क्या होगी।

You might also like