बकरियां चराने वाले के बेटे ने बिना कोचिंग के क्वालीफाई किया ‘नीट’

करसोग के दो होनहार प्रतिभावान युवाओं ने नीट की परीक्षा पास की है। अब आने वाले दिनों में दोनों युवाओं का चिकित्सक बनना निश्चित है। गौरतलब है कि करसोग के पूर्व विधायक मस्तराम तथा वर्तमान में जिला परिषद सदस्य निर्मला चौहान का पुत्र सुनील चौहान नीट की परीक्षा पास कर चुका है जो चिकित्सक बनकर सामाजिक सेवा करने का जहां जज्बा रखता है, वहीं उसने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दिया है। वहीं दूसरी तरफ करसोग के दुर्गम गांव चिमूतीर सरते ओला में बकरियां चराने वाले किसान देशराज व कांता देवी का बेटा दुष्यंत कुमार भी नीट की परीक्षा पास कर गया है। यहां बता दें कि दुष्यंत ने नीट की परीक्षा बिना किसी कोचिंग के पास की है।

You might also like