बच्चों के लिए जरूरी विटामिन्‍स्‍

जब माता-पिता के रूप में बच्चों की पोषण की आवश्यकता की बात आती है, तो आपको बच्चों के लिए पोषण की जरूरतों के बारे में बहुत सावधान रहना चाहिए। क्योंकि बच्चों की पोषण जरूरतें वयस्क से बहुत अलग हैं। कुछ विटामिन और खनिज हैं, जिन्हें बच्चों को आहार के माध्यम से सेवन कराना बहुत जरूरी है…

मां अपने बच्चों की पोषण संबंधी आवश्यकताओं के बारे में बहुत सावधान रहती है। प्रत्येक मां चाहती हैं कि वह अपने बच्चों को उचित और संतुलित आहार दे ताकि उसके बच्चे का सही विकास हो सके। जब माता-पिता के रूप में बच्चों की पोषण की आवश्यकता की बात आती है, तो आपको बच्चों के लिए पोषण की जरूरतों के बारे में बहुत सावधान रहना चाहिए। क्योंकि बच्चों की पोषण जरूरतें वयस्क से बहुत अलग हैं। कुछ विटामिन और खनिज हैं, जिन्हें बच्चों को आहार के माध्यम से सेवन कराना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं आवश्यक विटामिन और खनिजों के बारे में।

कैल्शियम

यह बच्चों की हड्डियों और दांतों के विकास में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है। डेयरी उत्पाद कैल्शियम का सबसे अच्छा स्रोत हैं। दूध आपके बच्चे के आहार का अनिवार्य हिस्सा होना चाहिए। सिर्फ डेयरी उत्पाद ही नहीं, हरी पत्तेदार सब्जियों में भी कैल्शियम होता है। बचपन से ही कैल्शियम के उचित सेवन से अपने बच्चे की हड्डियों और दांतों को स्वस्थ रखें।

विटामिन डी

अकेले कैल्शियम मजबूत हड्डियों और दांतों का निर्माण नहीं कर सकता। विटामिन डी भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि यह आहार से कैल्शियम को अवशोषित करता है। एक बच्चे के शरीर को विटामिन डी की आवश्यकता होती है ताकि कैल्शियम अपने कार्य को ठीक तरह से कर सके। यह प्रतिरक्षा और तंत्रिका तंत्र के स्वास्थ्य में भी सुधार करता है। विटामिन डी आपको कई बीमारियों से बचाने में भी मदद करता है।

फाइबर

फाइबर वयस्कों और बच्चों दोनों के लिए बेहद आवश्यक है। फाइबर पाचन और समग्र आंत के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ अन्य विटामिन और खनिजों से युक्त होते हैं। इसलिए यह बच्चों के लिए बेहद अच्छा है। ज्यादातर फल और सब्जियां फाइबर से भरपूर होती हैं। कुछ ऐसे फल और सब्जियां,जिनमें फाइबर होते है जैसेः  सेब, केला, संतरा, गाजर, ब्रोकली और अमरूद। फलियां और अनाज भी फाइबर से भरपूर होते हैं।

विटामिन बी

बच्चों के लिए विशेष रूप से विटामिन बी 12 आवश्यक विटामिन है। यह मैटाबॉलिज्म, ऊर्जा, हृदय स्वास्थ्य और तंत्रिका तंत्र के लिए बेहद अच्छा है। विटामिन बी 12 प्राकृतिक रूप से मछली, मांस, अंडे और दूध उत्पादों में मौजूद है। शाकाहारी बच्चों के लिए  आप साबुत अनाज और दूध उत्पादों का चयन कर सकते हैं।

आयरन

आयरन पूरे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने में मदद करता है। यह रक्त को ले जाने के लिए लाल रक्त कोशिकाओं को शक्ति देता है। बच्चों में आयरन की कमी से विभिन्न स्वास्थ्य जटिलताएं हो सकती हैं। इसलिए आप बच्चे के आयरन के सेवन पर नजर रखें।

 

You might also like