बाढ़ के प्रबंधों का लिया जायजा

पंचकूला –उपायुक्त डा. बलकार सिंह ने जिला अधिकारियों के साथ पंचकूला जिला में बाढ़ नियंत्रण के लिए किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने इस मौके पर अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो कार्य प्रगति पर है, उन्हें वर्षा ऋतु से पहले पूरा करने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी ऐसे कार्यों को विशेष प्राथमिकता दें। उन्होंने सेक्टर-19 पंचकूला, मान्क्या, आसरेवाली, बरवाला, कौशल्या डैम सहित अन्य क्षेत्रों में बाढ़ नियंत्रण के कार्यों का निरीक्षण किया। नगर निगम द्वारा सेक्टर-19 को बाढ़ के पानी से सुरक्षित रखने के लिए रेलवे लाइन के साथ-साथ कच्चे नाले की खुदाई की गई है। इस नाले के माध्यम से यह पानी पंजाब क्षेत्र में बरसाती नाले के माध्यम से बाहर निकल जाता हैं और सेक्टरवासियों को पेश आने वाली जलभराव की समस्या से भी निजात मिलती है। उपायुक्त ने नगर निगम के  अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे रेलवे अधिकारियों के साथ आवश्यक पत्राचार करके बेहतर समन्वय स्थापित करें, ताकि वर्षा के दिनों में रेलवे की भूमि पर बाढ़ नियंत्रण से संबंधित कार्यों में कोई प्रशासनिक रूकावट न आए। इसके उपरांत उपायुक्त ने गांव मान्क्या में सिंचाई विभाग द्वारा आबादी और कृषि योग्य भूमि को बाढ़ से सुरक्षित रखने के लिए किए जा रहे कार्यों का अवलोकन किया। इसके उपरांत उन्होंने आसरेवाली गांव में इस गांव से नजदीक से गुजरने वाली नदी में सिंचाई विभाग द्वारा बनाये जा रहे काजवे के कार्य का भी निरीक्षण किया। यह काजवे 87.47 लाख रुपए की लागत से बनाया जा रहा है और इसका कार्य जून 2020 तक पूरा होगा। काजवे बनने से नदी की दूसरी ओर बसे गांववासियों को वर्षा के दिनों में आवागमन में आने वाली दिक्कत से निजात मिलेगी। इसी प्रकार सिंचाई विभाग द्वारा बरवाला और बतौड़ गांवों में जलभराव की समस्या के स्थाई समाधान के लिए नाले का निर्माण किया जा रहा हैं और इस पर चार करोड़ 22 लाख रुपए की राशि खर्च की जा रही है।  सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता संदीप कुमार ने बताया कि विभाग द्वारा गांव बतौड़ में 14.30 लाखए गांव रिहोड़ में 36.02 लाख, गांव मंडलाया में 17.73 लाख, गांव नटवाल में 28.44 लाख, गांव नाडा में 9.81 लाख रुपए के बाढ़ सुरक्षा कार्य पूरे किए जा चुके हैं। गांव मीरपुर में 33.36 लाख रुपए की राशि से चल रहे बाढ़ सुरक्षा कार्य का 90 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया हैं।

You might also like