बाल नाट्योत्सव में नन्हे कलाकारों ने दिखाया हुनर

कुल्लू । ऐक्टिव मोनाल कल्चरल एसोसिएशन कुल्लू ने रंगभूमि नाट्य कलामंच लंकाबेकर के साथ मिलकर रंगभूमि बाल नाट्योत्सव का आयोजन किया। इसमें कुल्लू के आठ नाट्य दलों के बाल कलाकारों ने लघु नाटक प्रस्तुत किए। सबसे पहले भूषण देव के निर्देशन में वीआईपी, फिर जीवानंद के निर्देशन में हिरण्यकश्यप मर्डर केस, तीसरा नाटक आरती ठाकुर के निर्देशन में जंगल में जनतंत्र, चौथा नाटक मीनाक्षी के निर्देशन में सेर को सवा सेर, उसके बाद ममता के निर्देशन में नाटक यमराज का निमंत्रण, छठा नाटक रेवत राम विक्की के निर्देशन में भगत की गत प्रस्तुत किया गया और सातवां नाटक देस राज के निर्देशन में ढांक के तीन पात और आठवां नाटक रंगभूमि लंकाबेकर का ठग ठगे गए विपुल के निर्देशन में प्रस्तुत किया गया। केहर सिंह ठाकुर ने बताया कि 23 जून को मौहल गंाव में तथा 30 जून को शीशामाटी और इस बाल रंग यात्रा का आठवां तथा अंतिम बाल नाट्योत्सव सुल्तानपुर में सात जुलाई को किया जाएगा।

You might also like