बिना इंस्पेक्टर चल रहीं चूना खदानें

संगड़ाह—जिला सिरमौर के नागरिक उपमंडल संगड़ाह में सरकार की अनुमति के करीब 623 बीघा में चल रही चार चूना खदानों तथा इलाके में अवैध खनन के निरीक्षण के लिए यहां एक भी माइनिंग गार्ड की नियुक्ति न होने तथा नियमानुसार चैक पोस्ट व धर्म कांटे तक की व्यवस्था न किए जाने के लिए पर्यावरण के क्षेत्र में काम कर रही स्वयंसेवी संस्था सारा ने कड़ी आपत्ति जताई। संस्था के मुख्य सचिव बीएन शर्मा तथा अन्य पदाधिकारियों ने इस बारे मुख्यमंत्री को भेजे गए शिकायत पत्र की प्रति के साथ गुरुवार को प्रेस को जारी बयान में कहा कि खनन विभाग व अन्य संबंधित अधिकारियों के खनन व्यवसायियों से मधुर संबंध होने के चलते क्षेत्र में अवैध व वैज्ञानिक खनन जोरों पर है। उन्होंने कहा कि इस सिविल सब-डिवीजन के संगड़ाह, बोरली, भूतमढ़ी व भड़वाना में चल रही चार वैध चूना खदानों से हर रोज लाइम स्टोन के दर्जनों ओवरलोडेड ट्रक निकल रहे हैं तथा किसी भी माइन पर इनके वेट करने अथवा धर्मकांटे की व्यवस्था न होने का हवाला देकर संगड़ाह पुलिस इनके चालान तक नहीं कर पा रही है। जिला खनन अधिकारी सिरमौर सरीक चंद्र ने कहा कि उपमंडल संगड़ाह की सभी चूना खदानंे नियमानुसार सही ढंग से चल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश उच्च न्यायालय की हाई पावर कमेटी द्वारा साल में दो बार इन खदानों का निरीक्षण किया जाता है। उन्होंने कहा कि सिरमौर में खनन विभाग के पास स्टाफ की भारी कमी के चलते खदानों के नियमित निरीक्षण में परेशानी जरूर हो रही है।

You might also like