बेहतर रैंकिंग के लिए एक्सपर्ट एडवाइस लेंगे

शिमला – नैक की रैंकिंग करने वाले एक्सपर्ट की मदद लेकर एचपीयू उन सब खामियों को दूर करेगी, जो बेहतर रैंकिंग लाने में बाधा बन रही हैं। बता दें कि एचपीयू की नैक से रैंकिंग जहां पांच साल बाद होती है वहीं, नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग हर साल एमएचआरडी की ओर से करवाई जाती है। हर साल होने वाली इस रैंकिंग में एचपीयू हमेशा ही पिछड़ता आ रहा है, पर इस बार एचपीयू ने नेशनल रैंकिंग में सुधार करने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया है।

You might also like