भवाई पंचायत में पानी की किल्लत

नौहराधार —सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य मंडल नौहराधार के अंतर्गत ग्राम पंचायत भवाई के सड़क किनारे रह रहे करीब सौ से ज्यादा लोग पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं। यही नहीं भवाई स्कूल में करीब 250 बच्चों को भी पानी नसीब नहीं हो पा रहा है। हालांकि बच्चों के लिए अध्यापकों द्वारा पानी की व्यवस्था की जा रही है, मगर पाइपलाइनों में लगे नलों में पानी निरंतर नहीं आ रहा है। कई बार शिकायतंे की गइर्ं, मगर फरियाद सुनने वाले अधिकारी व नेतागण समाधान करने मौके पर नहीं पहुंच रहे हैं। उन्होंने बताया कि पेयजल समस्या के बारे में अनेक बार गुहार लगा चुके हंै, मगर विभाग लोगों की बात को अनसुना करके उनसे केवल मात्र आश्वासन मिल रहे हंै, मगर धरातल पर अभी तक कोई कार्रवाई नही की जा रही है। ऐसे में क्षेत्र के दर्जनों ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जहां से यह स्कीम विभाग द्वारा चलाई गई है पीछे सोर्स में पर्याप्त पानी है, पीछे सोर्स में पानी की कोई कमी नहीं है, जो पाइपलाइन ओजलटी से भवाई स्कूल होते हुए बस्तियों के लिए है वह जगह-जगह टूटी हुई है, जिससे पानी का रिसाव हो जाता है तभी आगे स्टोर टैंक तक पानी नहीं पहुंच पाता, मगर विभाग इस और बेखबर है। ग्रामीण कुला नंद, पूर्व प्रधान अरुण ठाकुर, नागेंद्र सिंह, भगवान सिंह, राजेंद्र, जालम सिंह, शमशेर सिंह व नीरज राजटा आदि ने बताया कि  कई बार हमने विभाग के कर्मचारियों को इस बाबत अवगत करवाया है, मगर यह लोग हमारी समस्या को अनसुना कर रहे हंै । सभी लोगों के सहयोग से जेब से पैसा खर्च कर मजबूरी में पीने के पानी के लिए अपने धन से पिकअप लगाई है, जो हर रोज सुबह हमारी बस्ती में पानी वितरित करती है । जब गाड़ी वाला पानी नहीं छोड़ता तो फिर ग्रामीणों को भीषण गर्मी में पीने के पानी के लिए दो से तीन किलोमीटर भटकना पड़ता है, जिसमंे ग्रामीणों का अधिकतर समय पानी ढोने में लग जाता है । पानी के अभाव के कारण लोग रोज स्नान भी नहीं कर सकते सबसे ज्यादा कठिनाइयों का सामना महिलाओं को अपने मवेशियों को पानी पिलाने में आता है जब भरी दोपहरी में मवेशियों को खड्डों व कुओं तक ले जाना पड़ता है कई बड़े पशुओं के लिए ढोकर पानी लाना पड़ता है। इसलिए मजबूरी में मवेशियों को डटकर पानी नहीं पिला सकते। ग्रामीणों ने बताया कि हमारी इस गंभीर समस्या पर आईपीएच विभाग द्वारा जल्दी कार्रवाई नहीं की गई तो इस बस्ती के सभी लोग आईपीएच मंडल के समक्ष आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगे। ग्रामीणों ने आईपीएच विभाग से आग्रह किया है कि हमारी पानी की समस्या को देखते हुए जल्द इस समस्या को दूर करें । इस बारे में अधिशाषी अभियंता मंडल नौहराधार अरशद रहमान ने बताया कि विभाग के कनिष्ठ अभियंता को कई बार भेजा गया है, वहां पर ग्रामीणों के आपसी मतभेद होने के कारण कार्य करने में दिक्कतंे आ रही हैं फिर भी फीटर को भेजकर लाइन को दुरुस्त किया जाएगा।

You might also like